कोटा: बदमाशों ने सरेराह गोली मारकर की हिस्ट्रीशीटर की हत्या, मौके पर मौत

फायरिंग से रणवीर सिर छलनी हो गया. रणवीर चौधरी, महावीर नगर थाना इलाके का हिस्ट्रीशीटर है, जिस पर 15 से अधिक मामले दर्ज हैं. संभवतया आपसी रंजिश, प्रॉपर्टी विवाद के तहत बदमाशों ने वारदात को अंजाम दिया है.

कोटा: बदमाशों ने सरेराह गोली मारकर की हिस्ट्रीशीटर की हत्या, मौके पर मौत
फायरिंग से रणवीर का सिर छलनी हो गया.

मुकेश सोनी, कोटा: जिले में बदमाशों के हौसले इस कदर बुलंद हैं कि रविवार देर शाम को स्कॉर्पियो सवार बदमाशों ने सरेराह हिस्ट्रीशीटर रणवीर चौधरी की गोली मारकर हत्या कर दी. श्रीनाथपुरम इलाके में स्थित स्टेडियम के बाहर बदमाशों ने वारदात को अंजाम दिया और मौके से फरार हो गए.

सरेराह हत्या के बाद इलाके में सनसनी फैल गई. पुलिस के आला अधिकारी एडिशनल एसपी दिलीप सैनी, डिप्टी अमृता दुहान कई थानों के सीआई मौके पर पहुचे ओर वारदात स्थल का मौका मुआयना किया. पुलिस ने शहर में नाकाबंदी करवाई. पुलिस आसपास के इलाकों के सीसीटीवी फुटेज भी जुटाए और उसके आधार पर आरोपियों की सरगर्मी से तलाश में जुट गई. एडिशनल एसपी दिलीप सैनी ने बताया कि कार सवार बदमाशों ने करीब चार-पांच राउंड फायर किए. रणवीर के सिर में गोली लगने से उसकी मौत हो गई.

फायरिंग से रणवीर का सिर छलनी हो गया. रणवीर चौधरी, महावीर नगर थाना इलाके का हिस्ट्रीशीटर है, जिस पर 15 से अधिक मामले दर्ज हैं. संभवतया आपसी रंजिश, प्रॉपर्टी विवाद के तहत बदमाशों ने वारदात को अंजाम दिया है.

पुलिस के अनुसार, हिस्ट्रीशीटर रणवीर के खिलाफ हत्या, लूट, हत्या के प्रयास, मारपीट, झगड़े के मामले दर्ज हैं. प्रथम दुष्टया सामने आया कि मृतक का किसी प्रॉपर्टी से संबंधित विवाद हो सकता है. मृतक रणवीर चौधरी, शिवराज गैंग और भानुप्रताप गैंग के साथ भी कार्य कर चुका है. पुलिस ने फिलहाल फायरिंग के दौरान काम मे ली गई गाड़ी बरामद की है. मामले की जांच जारी है.