राजस्थान से बाहर जाने के लिए लेनी होगी सरकार की परमिशन, बिना पास के एंट्री भी नहीं

कुछ समय पहले भी सरकार ने इसी तरह के आदेश जारी किए थे लेकिन 7 दिन बाद ही उन्हें वापस ले लिया गया था. 

राजस्थान से बाहर जाने के लिए लेनी होगी सरकार की परमिशन, बिना पास के एंट्री भी नहीं
प्रतीकात्मक तस्वीर.

विष्णु शर्मा, जयपुर: राजस्थान से बाहर जाने के लिए परमिशन लेनी होगी. राज्य सरकार ने एक बार फिर बॉर्डर पर अंतरराज्यीय आवागमन कंट्रोल करने के लिए निर्देश जारी किए. कुछ समय पहले भी सरकार ने इसी तरह के आदेश जारी किए थे लेकिन 7 दिन बाद ही उन्हें वापस ले लिया गया था. 

यह भी पढ़ें- राजस्थान की सीमाएं फिर से सील, बिना पास से नहीं होगी प्रवेश करने की इजाजत

गृह विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव रोहित कुमार सिंह की ओर से शनिवार रात आदेश जारी किए गए हैं. आदेशों के व्यक्तियों के अंतरराष्ट्रीय आवागमन पर कंट्रोल करने की बात कही गई है. प्रदेश में बढ़ रहे कोरोना संक्रमण के पीछे बॉर्डर पर अबाधित आवागमन को भी प्रमुख कारण माना जा रहा है. सरकार के सामने ऐसे मामले आए हैं, जिनमें प्रदेश से दूसरे राज्यों में शादी समारोह में गए व्यक्ति कोरोना संक्रमित होकर आए और यहां दूसरे लोगों को संक्रमित कर दिया. इसे देखते हुए अंतर राज्य आवागमन को कंट्रोल करने का निर्णय लिया गया. 

यह भी पढ़ें- राजस्थान के सभी बॉर्डर किए सील, सुरक्षा के लिहाज से उठाया गया महत्वपूर्ण कदम

मुख्य बिंदु

  • विदेशों से आने वाले नागरिकों पर गृह मंत्रालय का आदेश लागू. 

  • नियमित हवाई ट्रेन बस यात्रिएसडीएम थाने से ले सकेंगे पास.

  • हवाई अड्डा, रेलवे स्टेशन, बस स्टैंड पर यों की पुनः स्क्रीनिंग की जाएगी.

  • निजी वाहनों आने वालों की बॉर्डर चेक पोस्ट पर जांच की जाएगी.

  • राज्य से बाहर जाने के लिए पास अनिवार्य होगा.

  • कलेक्टर, एसपी, आयुक्त डीएसपी प्रशासन अतिरिक्त काउंटर लगाएगा, जहां से तत्काल पास ले सकेंगे.

  • 12 जुलाई तक टिकट ले चुके यात्रियों को पास की जरूरत नहीं होगी.

  • आपातकालीन परिस्थिति में पास की जरूरत नहीं होगी.

  • बाहर से आने वाले यात्रियों की स्क्रीनिंग के लिए स्थापित किए जाए काउंटर.