अलवर: आग में झुलसने से दादी और पोते की मौत, गांव में मचा कोहराम

अलवर के टपूकड़ा थाना क्षेत्र के बुबकाहेड़ा गांव में मकान में सो रहे दादी और पोते की कपास में आग (Fire) से झुलसने से मौत हो गई. 

अलवर: आग में झुलसने से दादी और पोते की मौत, गांव में मचा कोहराम
प्रतीकात्मक तस्वीर

अलवर: राजस्थान के अलवर के टपूकड़ा थाना क्षेत्र के बुबकाहेड़ा गांव में मकान में सो रहे दादी और पोते की कपास में आग (Fire) से झुलसने से मौत हो गई. घटना के बाद ग्रामीणों ने बड़ी मशक्कत से शवो को बाहर निकाला. दादी पोता के झुलसने से गांव में कोहराम मच गया. टपूकड़ा पुलिस ने शवों को कब्जे में लेकर मोर्चरी ने रखवाया है और टपूकड़ा थाना पुलिस मामले की जांच में जुटी हुई है.

मकान में एक कमरे में 55 साल की बुजुर्ग महिला मरियम अपने 4 साल के पोते आईयाज के साथ सर्दी की वजह से रजाई ओढ़ कर सो रही थी. कमरे में मोमबत्ती जल रही थी. तभी रात में अचानक मोमबत्ती कमरे में रखी कपास में गिर गई और कमरे में ही एक जरीकेन में डीजल रखा हुआ था जिसने आग पकड़ ली. आग की वजह से दादी पोते झुलसन गए और कमरे से धुआं और आग की लपटें दिखाई देने के बाद ग्रामीणों ओर परिजनों ने उन्हें कमरे से निकाला और अस्पताल लेकर गए. जहां मरियम की मौत हो गई. आईयाज को गंभीर अवस्था में रेफर किया गया, लेकिन रास्ते में ही उसकी भी मौत हो गई.

पुलिस फिलहाल मृतकों के पोस्टमार्टम करवा शव परिजनों को सौप दिया. हैड गजराज सिंह ने बताया कि बुबकाहेड़ा गांव में कमरे में मोमबत्ती से कपास और अन्य सामान में आग लग गई, जिससे पोता 4 साल आईयाज और 55 साल की दादी मरियम झुलसने से दर्दनाक मौत हो गई है. जिनका पोस्टमार्टम करवा दिया है.

ये भी पढ़ें: कोरोना गाइड लाइन की पालना नहीं करना दूल्हे को पड़ा महंगा, घोड़ी पर ही कट गया चालान