राजस्थान उपचुनाव में बीजेपी से अलग लड़ेगी हनुमान बेनीवाल की RLTP

विधानसभा से इस्तीफा देने के साथ ही हनुमान बेनीवाल ने अपने तेवर भी साफ कर दिए. उन्होंने कहा कि खींवसर से आरएलपी का प्रत्याशी चुनाव जरूर लड़ेगा. 

राजस्थान उपचुनाव में बीजेपी से अलग लड़ेगी हनुमान बेनीवाल की RLTP
फाइल फोटो

नागौर: सांसद चुने जाने के बाद खींवसर विधायक हनुमान बेनीवाल ने विधानसभा की सदस्यता से इस्तीफा दे दिया है. बेनीवाल ने विधानसभा अध्यक्ष सीपी जोशी को उनके चैंबर में इस्तीफा सौंपा. विधायक की कुर्सी छोड़ने के बाद बेनीवाल ने कहा की वह प्रदेश की जनता की आवाज संसद में पुरजोर तरीके से उठाएंगे और राजस्थान को विशेष राज्य का दर्जा दिलाने के लिए अपनी पूरी कोशिश करेंगे. बेनीवाल ने कहा कि वह राजस्थान को विशेष राज्य के दर्जे के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को भी मनाएंगे.

हनुमान बेनीवाल के इस्तीफे से पहले मंडावा से विधायक नरेंद्र खीचड़ ने भी विधानसभा की सदस्यता से इस्तीफा दे दिया है. नरेंद्र खीचड़ इस बार झुंझुनू सीट से बीजेपी के टिकट पर सांसद चुने गए हैं. स्पीकर सीपी जोशी ने बताया कि विधानसभा ने दोनों विधायकों का इस्तीफा मंजूर भी कर लिया है.

विधानसभा से इस्तीफा देने के साथ ही हनुमान बेनीवाल ने अपने तेवर भी साफ कर दिए. उन्होंने कहा कि खींवसर से आरएलपी का प्रत्याशी चुनाव जरूर लड़ेगा. बेनीवाल ने कहा कि एनडीए से उनका गठबंधन केवल लोकसभा चुनाव के लिए हुआ है जबकि राजस्थान में किसी तरह का गठबंधन विधानसभा चुनाव के लिए नहीं है. बेनीवाल ने खींवसर के साथ ही मंडावा सीट से भी आरएलपी का प्रत्याशी उतारने के संकेत दिए हैं. उन्होंने कहा कि मण्डावा सीट भी उनके प्रभाव क्षेत्र में आती है.

बेनीवाल और खीचड़ के इस्तीफे के साथ ही अब कांग्रेस, बीजेपी और आरएलपी का फोकस विधानसभा उपचुनाव पर आता दिखेगा. इन दोनों सीट पर आगामी निकाय चुनाव के साथ ही चुनाव कराने के आसार बन रहे हैं.