हनुमानगढ़: BJP ने जारी किया 'कांग्रेस का काला चिट्ठा', कही ये बातें...

प्रदेश में होने वाले पंचायत चुनावों से पहले भाजपा (BJP) ने प्रदेश सरकार के खिलाफ 'कांग्रेस का काला चिट्ठा' जारी किया है.

हनुमानगढ़: BJP ने जारी किया 'कांग्रेस का काला चिट्ठा', कही ये बातें...
भाजपा की ओर से जारी प्रपत्र में कांग्रेस के निशान हाथ को उल्टा दर्शाया गया है.

मनीष शर्मा, हनुमानगढ़: प्रदेश में होने वाले पंचायत चुनावों से पहले भाजपा (BJP) ने प्रदेश सरकार के खिलाफ 'कांग्रेस का काला चिट्ठा' जारी किया है. जिला मुख्यालय पर स्थित एक होटल में आयोजित प्रेस वार्ता में पूर्व जल संसाधन मंत्री डॉ. रामप्रताप, भाजपा जिलाध्यक्ष बलवीर बिश्नोई, संगरिया विधायक गुरदीप शाहपिणी, मीडिया प्रभारी दीपक खाती व जसप्रीत सिद्धू जेपी ने कांग्रेस का काला चिट्ठा नाम से एक दस्तावेज जारी करते हुए राज्य सरकार को हर मोर्चे पर विफल करार दिया. 

भाजपा की ओर से जारी प्रपत्र में कांग्रेस के निशान हाथ को उल्टा दर्शाया गया है. प्रेस वार्ता में पूर्व मंत्री डॉ. रामप्रताप ने कहा कि केंद्र सरकार की योजनाओं पर राज्य सरकार ने ब्रेक लगा दिया है. जल संरक्षण के काम भी ठप पड़े हैं. पूर्ववर्ती भाजपा सरकार के समय हनुमानगढ़ जंक्शन-टाउन में पेयजल के लिए मंजूर हुए 281 करोड़ रुपए के प्रस्तावित प्रोजेक्ट अगर शुरू होता तो पूरे शहर के लोगों को इसका लाभ मिलना था, लेकिन कांग्रेस सरकार के आते ही यह योजना अधर में लटक गई. 

पूर्व मंत्री ने संगरिया में हुई करीब सवा करोड़ रुपए की डकैती का खुलासा करने पर पुलिस प्रशासन की सराहना की. साथ ही जिले में बढ़ रहे नशे के कारोबार पर चिंता जताते हुए कहा कि पुलिस प्रशासन को इस तरफ भी ध्यान देना चाहिए. नशे के कारोबारियों के पकड़े जाने पर उनकी राजनीति से जुड़े लोगों की ओर पैरवी करने के एक सवाल के जवाब में पूर्व मंत्री ने कहा कि पहली बात तो भाजपा का कोई नेता नशा कारोबारियों की पैरवी नहीं करता. अगर कोई करता है तो वह भाजपा का कार्यकर्ता नहीं. पुलिस प्रशासन नशा कारोबारियों के खिलाफ सख्त कार्यवाही करे. 

वहीं, भाजपा जिलाध्यक्ष बलवीर बिश्नोई ने कहा कि राज्य की कांग्रेस सरकार को सत्ता में आए दो साल हो गए हैं. इन दो सालों में सरकार ने बिजली की दरों में बेतहाशा बढ़ोतरी कर दी, जिससे प्रदेश की जनता को बुरी तरह से प्रभावित किया है. पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे ने टोल समाप्त किया लेकिन कांग्रेस ने आते ही शुरू कर दिया. कोरोना काल में केन्द्र सरकार ने राज्य सरकार का काफी सहयोग किया, लेकिन राज्य सरकार ने जनता को राहत पहुंचाने के लिए नाकाफी प्रयास किए. 

राज्य सरकार ने सिर्फ पूर्ववर्ती भाजपा सरकार की योजनाएं बंद करने या नाम बदलने का काम किया है. उन्होंने कहा कि बीजेपी की तरफ से जारी कांग्रेस का काला चिठ्ठा, बीजेपी की चुनाव प्रचार सामग्री के रूप में लोगों तक पहुंचाया जाएगा. उन्होंने कहा कि बीजेपी का संगठन एकजुटता से पंचायती चुनाव में कांग्रेस को हराएगा.

ये भी पढ़ें: राजस्थान ACB की रडार पर घूसखोर, बाड़मेर में रिटायर्ड RAS और दलाल गिरफ्तार