प्रदेश की सेहत सुधारने के लिए स्वास्थ्य विभाग ने कसी कमर, अतिरिक्त मुख्य सचिव ने मीटिंग में लिया फीडबैक

प्रदेश में स्वास्थ्य सुविधाओं का सेचुरेशन जानने के लिए चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग ने कमर कस ली है. इसके तहत लोगों का हेल्थ सर्वे किया जा रहा है. 

प्रदेश की सेहत सुधारने के लिए स्वास्थ्य विभाग ने कसी कमर, अतिरिक्त मुख्य सचिव ने मीटिंग में लिया फीडबैक
अतिरिक्त मुख्य सचिव रोहित कुमार ने आशा वर्कर्स के साथ मीटिंग की

जयपुर: प्रदेश में स्वास्थ्य सुविधाओं का सेचुरेशन जानने के लिए चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग ने कमर कस ली है. इसके तहत लोगों का हेल्थ सर्वे किया जा रहा है. जयपुर ज़िले के गोविंदगढ़ और सीकर ज़िले के श्रीमाधोपुर ब्लॉक में सर्वे पूरा होने के बाद स्वास्थ्य विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव रोहित कुमार ने आशा वर्कर्स के साथ मीटिंग की और फीडबैक लिया. चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग द्वारा लोगों के स्वास्थ्य परीक्षण को लेकर पायलट प्रोजेक्ट के तौर पर डिजिटल हेल्थ सर्वे में शुरू किया गया है. इसके लिए जयपुर जिले के गोविंदगढ़ ब्लॉक और सीकर जिले के श्रीमाधोपुर ब्लॉक को शामिल किया गया था. दोनों ही ब्लॉकों में अब डिजिटल हेल्थ सर्वे का काम पूरा हो गया है. सर्वे के काम की जिम्मेदारी ब्लॉक की तमाम आशा वर्कर्स को दी गई थी. सर्वे का काम पूरा होने के बाद चिकित्सा स्वास्थ्य विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव रोहित कुमार सिंह ने आज गोविन्दगढ़ ब्लॉक की आशा वर्कर्स के साथ एक निजी होटल में संवाद किया. इस सर्वे को करने के लिए चिकित्सा स्वास्थ्य विभाग ने ई-जनस्वास्थ्य मोबाइल एप बनवाया और इस मोबाइल ऐप के जरिए ही आशा वर्कर्स ने काम पूरा किया. ACS रोहित कुमार ने आशा वर्कर्स से डिजिटल हेल्थ सर्वे के दौरान आई कठिनाइयां और मोबाइल एप का फीडबैक भी लिया. ACS रोहित कुमार ने सर्वे का काम पूरा होने पर आशा वर्कर्स के द्वारा किए गए काम को लेकर कहा सर्वे के परिणाम अच्छे आए हैं और अब इसे चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग पूरे प्रदेश में शुरू करने की कवायद करेगा. इस दौरान जन स्वास्थ्य निदेशक डॉक्टर के के शर्मा और यूनिसेफ के अधिकारी भी इस दौरान मौजूद रहे.