पुलिस कॉन्स्टेबल भर्ती 2016: Highcourt ने जिलेवार परिणाम जारी करने पर लगाई रोक

अदालत ने राज्य सरकार और पुलिस प्रशासन को नोटिस जारी कर जवाब तलब किया है. न्यायाधीश एसपी शर्मा ने यह आदेश जहीर अहमद की याचिका पर दिए.

पुलिस कॉन्स्टेबल भर्ती 2016: Highcourt ने जिलेवार परिणाम जारी करने पर लगाई रोक
प्रतीकात्मक तस्वीर.

महेश पारीक, जयपुर: राजस्थान हाईकोर्ट (Rajasthan High Court) ने पुलिस कॉन्स्टेबल भर्ती-2019 (Police Constable Recruitment-2019) का जिलेवार अलग-अलग परिणाम जारी करने पर अंतरिम रोक लगा दी है. 

यह भी पढ़ें- HC ने कनिष्ठ अनुदेशक भर्ती मामले में गहलोत सरकार-SSB को नोटिस भेज मांगा जवाब, कहा...

इसके साथ ही अदालत ने राज्य सरकार (State Government) और पुलिस प्रशासन को नोटिस जारी कर जवाब तलब किया है. न्यायाधीश एसपी शर्मा (SP Sharma) ने यह आदेश जहीर अहमद की याचिका पर दिए.

यह भी पढ़ें- राजस्थान HC के आदेश की हुई अवमानन, कोर्ट ने नोटिस भेज मांगा जवाब

याचिका में बताया कि राज्य सरकार ने वर्ष 2019 में पुलिस कॉन्स्टेबल के पांच हजार से अधिक पदों पर भर्ती निकाली थी. एक ही भर्ती विज्ञापन से विभिन्न जिलों के लिए आयोजित भर्ती की एक समान परीक्षा आयोजित की गई, लेकिन अब भर्ती परीक्षा का परिणाम जिलेवार जारी किया जा रहा है. याचिका में कहा गया कि जब सभी जिलों में एक भर्ती विज्ञापन से भर्तियां की जा रही हैं तो प्रदेश स्तर पर एक ही परिणाम निकाल कर एक ही कट ऑफ जारी करनी चाहिए.
अलग-अलग परिणाम जारी करने से अभ्यर्थियों के साथ भेदभाव होता है. याचिका में कहा गया कि पूर्व की भर्तियों में भी जहां दौसा जिले की सामान्य वर्ग की कट ऑफ करीब 70 रही, वहीं सीकर जिले में कट ऑफ बढक़र 74 से अधिक हो गई, दूसरी ओर प्रतापगढ़ जिले में कट ऑफ मार्क्स करीब पचास ही रही.