close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

अमित शाह की सुरक्षा के लिए गृह मंत्रालय ने जारी की एडवाइजरी, दिए निर्देश

इस संबंध में सुरक्षा सलाहकार आर. चतुर्वेदी ने प्रदेशों के मुख्य सचिव और डीजीपी को 26 जून को एक चिट्ठी लिखी है. जिसमें शाह की सुरक्षा को लेकर राज्य सरकारों और केंद्र शासित प्रदेशों को एडवाइजरी जारी की है.

अमित शाह की सुरक्षा के लिए गृह मंत्रालय ने जारी की एडवाइजरी, दिए निर्देश
शाह को कई धमकियां मिल चुकी है. (फाइल फोटो)

जयपुर/विष्णु शर्मा: बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष और गृह मंत्री अमित शाह की सुरक्षा को लेकर राज्यों को गृह मंत्रालय के सुरक्षा सलाहकार ने पत्र लिखकर सतर्कता बरतने का निर्देश दिया है. इस संबंध में सुरक्षा सलाहकार आर. चतुर्वेदी ने प्रदेशों के मुख्य सचिव और डीजीपी को 26 जून को एक चिट्ठी लिखी है. जिसमें शाह की सुरक्षा को लेकर राज्य सरकारों और केंद्र शासित प्रदेशों को एडवाइजरी जारी की है.

जानकारी के अनुसार, गृह मंत्री अमित शाह के बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष रहते मिली धमकियों के मद्देनजर सतर्कता बरतने का निर्देश दिया गया है. जिसके बाद प्रदेश के गृह विभाग ने एडीजी इंटेलीजेंस को आदेश शाह के दौरे के समय अतिरिक्त सुरक्षा के इंतजाम का निर्देश दिया.

अतिरिक्त सुरक्षा उपलब्ध कराने का निर्देश
एडवाइजरी में राज्यों के दौरे के दौरान शाह को अतिरिक्त सुरक्षा उपलब्ध कराने के निर्देश दिए गए हैं. आपको बता दें कि अमित शाह को जेड प्लस सीआरपीएफ कवर सुरक्षा मिली हुई है. दौरे के दौरान भी अमित शाह की सुरक्षा की जिम्मेदारी सीआरपीएफ को दी हुई है और इसके लिए अस्सिटेंट कमांडेट स्तर के अधिकारी को तैनात किया गया है.

स्थानीय परिस्थितियों का रखें ध्यान
राजधानी दिल्ली से बाहर निकलने पर शाह की सुरक्षा यलो बुक के अनुसार करने के निर्देश दिए गए हैं. मंत्रालय ने स्थानीय परिस्थितयों व कानून व्यवस्था के मद्देनजर अतिरिक्त सुरक्षा देने के निर्देश दिए हैं.

एसपी या एसीपी स्तर केअधिकारी की होगी तैनाती
राज्यों में दौरे के दौरान एसपी या एसीपी स्तर का अधिकारी अमित शाह की सुरक्षा में तैनात रहेगा. इस दौरान शाह की यात्रा का रूट, ठहरने के स्थान, सभा स्थल की एंटी सबोटाज जांच होगी. इसके अलावा शाह के साथ हमेशा दो हथियारबंद जवान रखने के निर्देश दिए गए हैं. इसके साथ ही दिल्ली के बाहर दौरान पर राज्य व केंद्र शासित प्रदेशों से समन्वय कर एएसल जांच करवानी होगी.

शाह को मिली है लगातार धमकियां
गौरतलब है कि भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष पद पर रहने के दौरान अमित शाह को जम्मू-कश्मीर, उत्तरी-पूर्वी राज्यों, नक्सल प्रभावित राज्यों से धमकियां मिल चुकी है. चूंकि शाह अब केंद्रीय गृहमंत्री है और वो अवांछनीय गतिविधियों के खिलाफ कार्रवाई के आदेश देते हैं. इसके मद्देनजर ही उन्हें राज्यों के दौरे के दौरान अतिरिक्त सुरक्षा के निर्देश दिए गए हैं. 

राज्य पुलिस को दिए गए ये निर्देश
राज्य पुलिस को रिंग राउंड पुलिस टीम लगाने के निर्देश दिए गए हैं. टीम में लगाए जाने वाले जवान तंदुरुस्त और ट्रेंड होने चाहिए. रिंग राउंड टीम में प्रीपोजिशनल तैनातगी की जरूरत बताई है. इसके साथ ही राज्यों से पर्याप्त संख्या में चुनिंदा हथियारबंद गार्ड, वॉचर लगाने के निर्देश दिए गए हैं.

सीआरपीएफ की राउंड द क्लॉक रहेगी सुरक्षा 
गृहमंत्रालय से निर्देश दिए गए हैं कि सड़क, रेल यात्रा के दौरान समीपवर्ती स्थान पर सीआरपीएफ की राउंड द क्लॉक सुरक्षा रहेगी. वहीं कामर्शियल एयरक्राफ्ट में हवाई यात्रा के दौरान सादा वस्त्रों में ऑटोमैटिक हथियार वाला पीएसओ साथ रहेगा. 

शाह की कारकेड में रहेगा मोबाइल जैमर
इसके अलावा अन्य निर्देशों में कंट्रोल रूम का सभी से सतत सम्पर्क, डीएफएमडी, एचएचएमडी, एक्सरे बैगेज स्केनर के इंतजाम, ड्यूटी पर लगाए जाने वाले जवानों की पहचान तय, शाह को बुलेट प्रूफ कार, संचार व्यवस्था युक्त, ट्रैंड ड्राइवर रहेगा. इसके अलावा आगे और पीछे सीआरपीएफ की एस्कॉर्ट रहेगी. शाह की कारकेड में मोबाइल जैमर भी रहेगा. इसके साथ ही कमांड व्हीकल, टेल कार व सुरक्षा गार्ड का जाब्ता भी शाह की सुरक्षा में रहेगा.