close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

मानवाधिकार आयोग ने अलवर भीड़ हत्या मामले में राजस्थान सरकार को भेजा नोटिस, मांगी रिपोर्ट

आयोग ने कहा कि उसने पाया कि खबरों की विषयवस्तु पीड़ित के मानवाधिकारों के उल्लंघन का गंभीर मुद्दा उठाती है. इसी के अनुसार आयोग ने राज्य के मुख्य सचिव और पुलिस महानिदेशक को नोटिस जारी किया है

मानवाधिकार आयोग ने अलवर भीड़ हत्या मामले में राजस्थान सरकार को भेजा नोटिस, मांगी रिपोर्ट

नई दिल्ली: राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग ने अलवर जिले में 28 वर्षीय युवक की कथित तौर पर भीड़ द्वारा पीट - पीटकर हत्या किए जाने के मामले में राजस्थान सरकार को गुरुवार को नोटिस जारी किया. आयोग ने कहा कि उसने मीडिया की उन खबरों पर स्वत: संज्ञान लिया है जिसमें बताया गया कि 20 जुलाई को हरियाणा के मेवात जिले के रहने वाले रकबर खान पर अलवर के 8-10 गोरक्षकों ने गौ तस्कर समझ कर हमला कर दिया था और कुछ घंटे बाद उसकी मौत हो गई थी. 

आयोग ने कहा कि उसने पाया कि खबरों की विषयवस्तु पीड़ित के मानवाधिकारों के उल्लंघन का गंभीर मुद्दा उठाती है. इसी के अनुसार आयोग ने राज्य के मुख्य सचिव और पुलिस महानिदेशक को नोटिस जारी किया है और दो हफ्ते के भीतर मामले पर रिपोर्ट मांगी है. आपको बता दें कि 20 जुलाई को हुई इस घटना में पुलिस की गलती भी सामने आई है. भीड़ द्वारा कानून हाथ में लेते हुए युवक को गौ तस्कर होने के शक में मौत के घाट उतारा गया था.

जिसके बाद रकबर की पोस्टमार्टम रिपोर्ट में खुलासा हुआ था कि उसकी मौत ज्यादा मार खाने से ही हुई. रकबर के शरीर पर 12 चोट के निशान मिले थे और उसके हाथ और पैर की हड्डी भी टूट गई थी. वहीं मामले में पुलिस अधिकारी मोहन सिंह को भी सस्पैंड कर दिया गया था. 

(इनपुट भाषा से भी)