हनुमानगढ़: 1 करोड़ की लूट में पुलिस के हाथ खाली, बैंककर्मियों की भूमिका भी संदिग्ध

हनुमानगढ़ जिले के संगरिया कस्बे में कल देर शाम को एक्सिस बैंक से एक करोड़ रुपये से ज्यादा की लूट के मामले में अभी तक लुटेरों का कोई सुराग नहीं मिला है. 

हनुमानगढ़: 1 करोड़ की लूट में पुलिस के हाथ खाली, बैंककर्मियों की भूमिका भी संदिग्ध
फाइल फोटो

मनीष शर्मा, हनुमानगढ़: राजस्थान के हनुमानगढ़ जिले के संगरिया कस्बे में कल देर शाम को एक्सिस बैंक से एक करोड़ रुपये से ज्यादा की लूट के मामले में अभी तक लुटेरों का कोई सुराग नहीं मिला है. लूट की इस बड़ी वारदात का एक सीसीटीवी फुटेज सामने आया है जिसमें तीन संदिग्ध युवक बैंक के पास घूमते हुए नजर आ रहे हैं और संगरिया पुलिस के अनुसार ये युवक ही लुटेरे हो सकते हैं. 

ये भी पढ़ें: राजस्थान: अब बनेगी गांव की सरकार, वार्डपंच-सरपंच प्रत्याशी कल भरेंगे नामांकन

सीसीटीवी फुटेज में तीन युवक काफी समय तक बैंक के आसपास घूमते हुए नजर आ रहे हैं. वहीं, इस मामले में बैंककर्मियों द्वारा बार-बार बयान बदलने से बैंककर्मियों की भूमिका भी संदिग्ध नजर आ रही है. बैंककर्मियों ने कल वैन लूटने, फिर रात्रि को बैंक मैनेजर की कार को रुपयों सहित लूटकर ले जाने की बात कही थी और आज कहा गया कि लुटेरों ने बैंककर्मियों को बंधक बनाकर स्ट्रांग रूम से लूट की और बैंक मैनेजर की कार में रकम लेकर फरार हो गए. 

बैंककर्मियों के अनुसार लुटेरों ने उनको करीब 1 घण्टा बंधक बनाया जबकि लूट की वारदात को करीब 12-13 मिनटों में ही अंजाम दे दिया गया. ऐसे में पुलिस अब बैंक के सीसीटीवी फुटेज का इंतजार कर रही है. क्योंकि बैंक के तकनीशियन आने पर ही अंदर की फुटेज मिल पाएगी. साथ ही कुल कितनी रकम लूटी गई इसकी भी जानकारी जुटाई जा रही है. क्योंकि लूटी गई रकम 1 करोड़ रुपये से ज्यादा की है. वहीं, घटना की सूचना पर संगरिया में हड़कम्प मच गया था और पुलिस कार्यप्रणाली पर सवाल खड़े हो गए क्योंकि कल सुबह भी संगरिया के रासूवाला गांव में अज्ञात लुटेरों ने एक ईमित्र संचालक से डेढ़ लाख रुपयों की लूट की थी. 

वहीं, बैंक राशि की इतनी बड़ी लूट में बैंककर्मियों के बार-बार बयान बदलने से भी असमंजस की स्थिति पैदा हो रही है. मिली जानकारी के अनुसार घटना के समय बैंक गार्ड भी मौजूद नहीं था जिससे लुटेरों को रकम लूटने में आसानी हुई. एक करोड़ से ज्यादा की लूट की सूचना जैसे ही संगरिया पुलिस को मिली तो पूरे संगरिया कस्बे में हड़कम्प मच गया और तुरन्त नाकाबंदी करवाई गई मगर तब तक लुटेरे फरार होने में सफल हो गए. चूंकि संगरिया पंजाब और हरियाणा का सीमावर्ती क्षेत्र है, इसलिए हमेशा की तरह लूट की इस बड़ी वारदात में भी पुलिस का फोकस पंजाब और हरियाणा की तरफ रहा और पुलिस की टीमों ने घटना के बाद पंजाब और हरियाणा में छानबीन शुरू की तो रात्रि को करीब 11 बजे संगरिया पुलिस को लूटी हुई कार हरियाणा के डबवाली में सड़क किनारे खड़ी मिल गयी. जबकि लुटेरों और रकम का कुछ भी पता नहीं लग सका.

वहीं, घटना की सूचना मिलने पर एसपी राशि डोगरा भी रात्रि को घटनास्थल पर पहुंची और मामले की जानकारी हासिल की. वहीं, इतनी बड़ी लूट के इस तरह बड़ी आसानी से कामयाब हो जाने पर भी कई तरह के सवाल पैदा कर रहे हैं. फिलहाल लूटी हुई कार के हरियाणा में मिलने से पुलिस का फोकस अब हरियाणा की तरफ है. वहीं, पुलिस इस मामले में लुटेरों की तलाश के साथ ही बैंक स्टाफ से भी पूछताछ में जुटी है.

ये भी पढ़ें: दातों और मूंछों से 100-125 किलो का वजन उठा लेते 65 साल के कजोडमल, कहलाते 'यंग मैन'