राजस्थान: समर्थन मूल्य पर किसानों से मूंगफली की खरीद कल से, बने 72 केंद्र

गहलोत सरकार(Gehlot Government) बुधवार से न्यूनतम समर्थन मूल्य(Minimum Support Price) पर किसानों से मूंगफली की खरीद करेगी.

राजस्थान: समर्थन मूल्य पर किसानों से मूंगफली की खरीद कल से, बने 72 केंद्र
मूंग की 1 हजार 119 मीट्रिक टन की खरीद अभी तक हुई है. (प्रतीकात्मक फोटो)

जयपुर: गहलोत सरकार(Gehlot Government) बुधवार से न्यूनतम समर्थन मूल्य(Minimum Support Price) पर किसानों से मूंगफली की खरीद करेगी. इसके लिए प्रदेश सरकार ने तैयारियां पूरी कर ली है. मूंगफली की न्यूनतम समर्थन मूल्य पर खरीद के लिए सहकारिता विभाग ने 72 केंद्र बनाए है. 

प्रदेश सरकार 3 लाख 6 हजार 875 मीट्रिक टन मूंगफली की खरीद किसानों से करेगी. बता दें, 15 अक्टूबर से अब तक मूंगफली के लिए 1 लाख 1 हजार 547 किसानों ने पंजीयन करा लिया है. 

केंद्र ने दी है इतनी खरीद की अनुमति
केंद्र सरकार(Central Government) ने मूंग, उड़द, सोयाबीन और मूंगफली जिन्सों के लिए 9.63 लाख मीट्रिक टन खरीद की अनुमति दी है. 1 नवंबर से मूंग, उड़द एवं सोयाबीन की खरीद शुरू हो चुकी है और 5 नवंबर तक 3.75 करोड़ रूपये की खरीद की जा चुकी है.

जानिए कितने बने हैं केंद्र
सहकारिता मंत्री उदयलाल आंजना(Uday Lal Aanjana) ने बताया कि खरीद के लिए 322 केंद्र स्थापित किए गए है. जिसमें से मूंग के लिए 150, मूंगफली के 72, उड़द के 61 एवं सोयाबीन के 39 केंद्र शामिल हैं. 

2.26 लाख किसानों ने कराया है बायोमेट्रिक पंजीयन
उन्होंने बताया कि किसानों से 7050 रूपये प्रति क्विटंल मूंग, 5090 प्रति क्विटंल मूंगफली, 5700 रूपये प्रति क्विटंल उड़द एवं 3710 रूपये प्रति क्विटंल सोयाबीन की न्यूनतम समर्थन मूल्य पर खरीद की जाएगी. मूंग की 2.28 लाख मीट्रिक टन, उड़द की 73 हजार 800 मीट्रिक टन और सोयाबीन की 3.54 लाख मीट्रिक टन की खरीद पंजीयन कराने वाले किसानों से की जाएगी. चारों जिन्सों के लिए अब तक 2.26 लाख किसानों ने बायोमेट्रिक तरीके से पंजीयन कराया है.

बताया जा रहा है कि मूंग की 1 हजार 119 मीट्रिक टन की खरीद अभी तक हुई है. राजफैड 5 नवंबर से अब तक 1 हजार 774 किसानों को मूंग, उड़द, सोयाबीन मूंगफली उपज बेचान की तारीख आवंटित की जा चुकी है.