close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

जयपुर: भरतपुर समेत कई जिलों में इंटरनेट पर पाबंदी, धारा 144 भी लागू

यूपी से सटे होने के चलते भरतपुर और धौलपुर (Dholpur) में काफी सतर्कता बरती जा रही है.

जयपुर: भरतपुर समेत कई जिलों में इंटरनेट पर पाबंदी, धारा 144 भी लागू
प्रतीकात्मक तस्वीर.

जयपुर: अयोध्या विवाद (Ayodhya Verdict) पर शनिवार को सुबह साढ़े 10 बजे तक सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) फैसला सुनाने वाला है. इसको लेकर पूरे प्रदेश में सुरक्षा व्यवस्था कड़ी कर दी गई. अयोध्या विवाद (Ayodhya Verdict) पर फैसले को लेकर राजधानी जयपुर (Jaipur) समेत भरतपुर संभाग में इंटरनेट (Internet) सेवा बंद कर दी गई है. यूपी से सटे होने के चलते भरतपुर और धौलपुर (Dholpur) में काफी सतर्कता बरती जा रही है.

राम मंदिर (Ram Mandir) फैसले को लेकर प्रशासन अलर्ट पर है. इसके चलते प्रशासन के आदेश पर शनिवार को जयपुर, भरतपुर, जोधपुर, कोटा, झालावाड़, पाली, सवाई माधोपुर, श्रीगंगानगर, दौसा, सिरोही, करौली, टोंक, सीकर, नागौर, केकड़ी में धारा 144 लागू की गई है. इसके साथ ही सुरक्षा के पुख्ता इंतजामों के साथ-साथ सभी सरकारी और गैर-सरकारी स्कूलों को भी बंद किया गया है. 

मामले की संवेदनशीलता को देखते हुए सोशल मीडिया पर कड़ी नजर रखी जा रही है. अयोध्या के फैसले को देखते हुए चप्पे-चप्पे पर भारी पुलिस बल तैनात किया गया है. जयपुर कमिश्नरेट क्षेत्र में इंटरनेट पर 24 घंटे पाबंदी लगाई गई है. टोंक में जिला कलेक्टर के.के. शर्मा खुद ही मॉनीटरिंग कर रहे हैं. राम मंदिर फैसले पर सभी से शांति और सौहार्द बनाए रखने की अपील की गई है. 

डूंगरपुर में भी राम मंदिर फैसले के मद्देनजर जिला कलेक्टर आलोक रंजन ने सांप्रदायिक सद्भाव बनाए रखने की अपील की है. वहीं सरहदी जिले जैसलमेर में भी सुरक्षा के ऐहतियातन धारा 144 लागू कर दी गई है. सोशल मीडिया के दुरुपयोग और भड़काऊ पोस्ट पर सख्त कार्रवाई की चेतावनी दी गई है. फैसले का सम्मान कर कौमी एकता की मिसाल बनने की अपील की गई है.