जयपुर: ACB की बड़ी कार्रवाई, रिश्वत के मामले में 3 को किया गिरफ्तार

परिवादी राजवीर सिंह के खिलाफ झोटवाड़ा थाने में ही मुकदमा नंबर 564/18 आईपीसी की धारा 420, 406, 467, 468, 471 में दर्ज था. जिसमें परिवादी अभी जमानत पर है.

जयपुर: ACB की बड़ी कार्रवाई, रिश्वत के मामले में 3 को किया गिरफ्तार
प्रतीकात्मक तस्वीर

जयपुर/ आशुतोष शर्मा: भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो (एसीबी) जयपुर देहात की टीम ने बुधवार को कार्यवाही करते हुए पुलिस थाना- झोटवाड़ा में पुलिस आयुक्तालय में कार्यरत हेड कांस्टेबल (थानाप्रभारी के रीडर) बत्तू खान, दलाल सुमंत सिंह और थाने का लिंक लोक अभियोजक चंद्रभान जोशी को 1 लाख रूपए की रिश्वत लेते हुए गिरफ्तार किया कर लिया है.

भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो महानिरीक्षक दिनेश एमएन ने बताया कि परिवादी राजवीर सिंह गंगानगरी ने एसीबी में परिवाद देकर बताया कि उसने झोटवाड़ा थाने में मुकदमा नंबर 399/12 जेडीए से संबंधित जमीन की धोखाधड़ी का मुकदमा दर्ज करवाया था. जिसमें जांच सीआईडी सीबी द्वारा की गई. जांच में आरोपी के खिलाफ जुर्म प्रमाणित माने और मुलजिम को गिरफ्तार करना है तथा मुझे आरोपी से उक्त जमीन की एवज में 36 लाख मिलने हैं. इस मुकदमे में आरोपी की गिरफ्तारी एवं पैसे दिलवाने की एवज में झोटवाड़ा थाने वाले मुझसे 36 लाख रुपए का 10 प्रतिशत के रूप में 3.60 लाख रूपए की रिश्वत की राशि की मांग कर रहे हैं. जिसमें यह मामला ढाई लाख रुपए में सेटल हुआ.

आपको को बता दें कि परिवादी राजवीर सिंह के खिलाफ झोटवाड़ा थाने में ही मुकदमा नंबर 564/18 आईपीसी की धारा 420, 406, 467, 468, 471 में दर्ज था. जिसमें परिवादी अभी जमानत पर है. इस मुकदमे में परिवादी के खिलाफ आईपीसी की धारा 467, 468 और पत्नी का नाम भी हटाने की एवज में पूर्व में हैड कांस्टेबल (थानाप्रभारी के रीडर) बत्तू खान और दलाल सुमंत सिंह उससे 5 लाख रूपये रिश्वत की राशि की मांग कर रहे थे और 3 लाख रुपए की रिश्वत भी ले चुके हैं.
            
भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो अतिरिक्त अधीक्षक पुलिस, जयपुर देहात नरोत्तम वर्मा के नेतृत्व में इस मांग का सत्यापन करवा कर हैड कांस्टेबल (थानाप्रभारी के रीडर) बत्तू खान, दलाल सुमंत सिंह और थाने के लिंक लोक अभियोजक चंद्रभान जोशी को 1 लाख रूपए की रिश्वत लेते गिरफ्तार किया. रिश्वत की यह राशि दलाल सुमंत सिंह के मार्फ़त ली गई थी.