close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

जयपुर: अशोक गहलोत ने भामाशाह टेक्नो हब का किया निरीक्षण, ड्राइव का भी लिया आनंद

शोक गहलोत ने आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस, रोबोटिक टेक्नोलॉजी, थ्री-डी प्रिंटर तकनीक एवं एक्स आर-वी आर तकनीक पर हो रहे कार्यों की भी पूरी जानकारी ली. 

जयपुर: अशोक गहलोत ने भामाशाह टेक्नो हब का किया निरीक्षण, ड्राइव का भी लिया आनंद
सीएम ने भामाशाह टेक्नोहब के डिजिटल म्यूजियम में वर्चुअल ट्रेक पर ड्राइव का आनंद लिया.

जयपुर: मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने शनिवार को झालाना डूंगरी स्थित भामाशाह टेक्नो हब और स्टेट डाटा सेंटर जाकर प्रदेश में सूचना प्रौद्योगिकी के क्षेत्र में हो रहे नवाचारों का जायजा लिया. साथ ही अशोक गहलोत ने आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस, रोबोटिक टेक्नोलॉजी, थ्री-डी प्रिंटर तकनीक एवं एक्स आर-वी आर तकनीक पर हो रहे कार्यों की भी पूरी जानकारी ली. 

यहां तक कि गहलोत ने भामाशाह टेक्नोहब के डिजिटल म्यूजियम में वर्चुअल ट्रेक पर ड्राइव का आनंद लिया. साथ ही रोलर कोस्टर राइड, वीआर टेक्नोलॉजी के माध्यम से हैंग ग्लाइडर से आसमान में उड़ने के नजारे का अनुभव लिया. उन्होंने सेण्ड आर्ट पर हाथ आजमाए तो दूसरी ओर फुटबॉल व क्रिकेट जैसे वर्चुअल गेम भी खेले. 

मुख्यमंत्री ने सूचना एवं प्रौद्योगिकी विभाग की ई-मित्र प्लस मशीन के माध्यम से वीडियो कॉन्फ्रेसिंग सुविधा, थ्री-डी प्रिंटर और स्पाइडर रोबोट के बारे में जानकारी ली. गहलोत टेक्नोहब से सीधे राजस्थान इंटरनेशनल सेंटर की निर्माणाधीन बिल्डिंग में पहुंचे जहां अधिकारियों ने उन्हें निर्माण कार्य की वर्तमान स्थिति के बारे में बताया. 

इसके बाद मुख्यमंत्री स्टेट डाटा सेंटर गए और वहां उपलब्ध सुविधाओं की समीक्षा की. मुख्यमंत्री सेंटर में बने 'राजस्थान सिक्यूरिटी ऑपरेशन सेंटर' गए और वहां साइबर सिक्योरिटी के लिए की गई व्यवस्थाओं का भी पूरा जायजा लिया. प्रमुख शासन सचिव सूचना प्रौद्योगिकी अभय कुमार ने डाटा सेंटर के माध्यम से विभिन्न विभागों की एप्लीकेशन एक्सेस की प्रक्रिया के बारे में बताया कि करीब 290 ब्लॉक स्टेट डाटा सेंटर से जुड़े हुए हैं.
 
वहीं मुख्यमंत्री स्टेट डाटा सेंटर की कैन्टीन गए तो वहां बैठे स्कूली बच्चों को देख उनके बीच जाकर बैठ गए. बच्चों ने अपने हाथ से उन्हें समोसा खिलाया और सेल्फी ली. अशोक गहलोत को लेखक डॉ. संजय कुमार ने अपनी पुस्तक 'कटिहार से कैनेडी' की प्रति भेंट की. इस दौरान मुख्य सचिव डी बी गुप्ता, मुख्यमंत्री के प्रमुख सचिव कुलदीप रांका, मुख्यमंत्री सचिव अजिताभ शर्मा, विशिष्ठ सचिव अमित ढाका,  जेडीसी टी रविकांत सहित अन्य अधिकारी मौजूद रहे.