जयपुर: पुलवामा हमले के शहीदों को CM अशोक गहलोत ने दी श्रद्धांजलि, कहा...

मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने शहीद स्मारक पहुंचकर सभा को संबोधित किया. सीएम ने कहा देश में लोकतंत्र को खत्म करने की कोशिश की जा रही है. 

जयपुर: पुलवामा हमले के शहीदों को CM अशोक गहलोत ने दी श्रद्धांजलि, कहा...
गहलोत ने कहा कि डेमोक्रेसी में जन भावनाओं का सम्मान बेहद जरूरी है.

जयपुर: एनआरसी और सीएएए को लेकर पिछले 15 दिनों से शाहीन बाग बने जयपुर के शहीद स्मारक पर शुक्रवार को पुलवामा हमले के शहीदों की याद में श्रद्धांजलि सभा का आयोजन हुआ. मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने शहीद स्मारक पहुंचकर सभा को संबोधित किया. सीएम ने कहा देश में लोकतंत्र को खत्म करने की कोशिश की जा रही है. लेकिन डेमोक्रेसी में जन भावनाओं का सम्मान बेहद जरूरी है.

साथ ही, अशोक गहलोत ने कहा कि केंद्र सरकार ने जन भावनाओं के खिलाफ जाकर एनआरसी और सीएए जैसा कदम उठाया है. मुख्यमंत्री ने कहा कि आज उनके पास भी उनके मां-बाप के जन्म स्थान के दस्तावेज नहीं है. इस लिहाज से वे भी एनआरसी में आते हैं उन्हें भी शरणार्थी कैंप में जाना पड़ेगा. 

सीएम अशोक गहलोत ने कहा अगर ऐसे हालात बने हैं तो शरणार्थी कैंप में जाने वाले वे पहले व्यक्ति होंगे. कांग्रेस पार्टी देश की जनता के साथ है और आगे की लड़ाई की योजना तैयार कर रही है. मुख्यमंत्री ने कहा नरेंद्र मोदी अगर देश के पीएम हैं तो वह भी प्रदेश की जनता के चुने हुए सीएम हैं और जनता की परेशानियों दुश्वारियां को अच्छे से समझते हैं. 

सीएम ने कहा कि असम में एनआरसी विफल हो गई तो सीएए कानून लाया गया है. एक तरफ पीएम मोदी कहते हैं कि एनआरसी लागू नहीं होती. वहीं, गृहमंत्री कहते हैं हर हाल में एनआरसी को लागू किया जाएगा. इनके बयानों में विरोधाभास बताता है कि केंद्र सरकार में कुछ भी ठीक नहीं चल रहा. 

साथ ही, सीएम अशोक गहलोत ने कहा कि इनकी मनमानी को दिल्ली की जनता ने नकार दिया है. दिल्ली में पीएम गृह मंत्री के साथ सरकार के कद्दावर मंत्री कई राज्यों के सीएम और माहौल को बिगाड़ने के लिए योगी जी को भी बुलाया गया था लेकिन परिणाम सबके सामने है.