close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

जयपुर: साइकिल रैली के जरिए दिया गया ऊर्जा संरक्षण का संदेश, CM ने दिखाई हरी झंडी

कार्यक्रम की अध्यक्षता ऊर्जा मंत्री डॉ बीडी कल्ला ने की. मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने इस अवसर पर ऊर्जा संरक्षण की शपथ दिलवाई.

जयपुर: साइकिल रैली के जरिए दिया गया ऊर्जा संरक्षण का संदेश, CM ने दिखाई हरी झंडी
सीएम ने कहा नई सौर और विंड ऊर्जा नीति लाकर नए निवेश को भी प्रोत्साहित करेगी.

जयपुर: राजीव गांधी अक्षय ऊर्जा दिवस पर रामनिवास बाग से लेकर गांधी सर्किल तक अक्षय ऊर्जा दौड़ का आयोजन किया गया. कार्यक्रम के मुख्य अतिथि मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने हरी झंडी दिखाकर अक्षय ऊर्जा दौड़ और साइकिल रैली को रवाना किया. कार्यक्रम की अध्यक्षता ऊर्जा मंत्री डॉ बीडी कल्ला ने की. मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने इस अवसर पर ऊर्जा संरक्षण की शपथ दिलवाई. 

75वीं पुण्यतिथि पर पॉवर रन
रामनिवास बाग पर आज सुबह पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी को याद किया गया. ऊर्जा विभाग ने इसे राजीव गांधी अक्षय ऊर्जा दिवस के रुप में मनाया. कार्यक्रम के मुख्य अतिथि मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने अक्षय ऊर्जा दौड़ और साइकिल रैली को हरी झंडी दिखाई. कार्यक्रम की अध्यक्षता ऊर्जा मंत्री डॉ बीडी कल्ला ने की. इस अवसर पर मुख्य सचिव डीबी गुप्ता, मुख्य सचेतक महेश जोशी, परिवहन मंत्री प्रताप सिंह खाचरिवास, राज्यमंत्री डॉ सुभाष गर्ग, खेल राज्यमंत्री अशोक चांदना, उप सचेतक महेंद्र चौधरी, विधायक रफ़ीक़ खान, कृष्णा पूनिया, गोपाल मीणा, महापज्ञैर विष्णु लाटा सहित ऊर्जा विभाग के आला अधिकारी मौजूद रहे. 

नई पीढ़ी तक पहुंचाएगें राजीव गांधी के विचार
राजीव गांधी अक्षय ऊर्जा दौड़ में भाग ले रहे धावकों को संबोधित करते हुए मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कहा कि राजीव गांधी के समय में देश में सूचना क्रांति का आगाज हुआ। आज उन्हें याद करने का दिन हैं, वो अपने विकसित भारत के सपने के रुप में हमारे बीच आज भी है. आर्थिक उदारीकरण, पंचायतों के उत्थान, डिजिटल क्रांति, ग्राम विकास, नए भारत का उदय करने में उनकी अहम भूमिका रही है. लोकतंत्र की मजबूती में राजीव गांधी का सराहनीय योगदान हमेशा याद किया जाएगा. नई पीढ़ी तक उनके विचार हम पहुंचाएगें. देश के विकास में पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी के योगदान का जिक्र करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि राजीव गांधी भारत को 21वीं सदी में ले जाने का सपना रखते थे। भारत में अक्षय ऊर्जा की क्रांति भी उनकी दूरदर्शी सोच का परिणाम है. 

अक्षय ऊर्जा उपयोग की दिलवाई शपथ
अक्षय ऊर्जा के क्षेत्र में राजस्थान देश ही नहीं दुनिया का सिरमौर बनने की क्षमता रखता है. सौर ऊर्जा उत्पादन की जो संभावनाएं यहां मौजूद हैं और कहीं नहीं हैं. राज्य सरकार अक्षय ऊर्जा को बढ़ावा देने के लिए पुरजोर प्रयास कर रही है. गहलोत ने कहा कि राजीव गांधी जी की जयंती पर सभी प्रदेशवासियों को अक्षय ऊर्जा के उपयोग को बढ़ावा देने का संकल्प लेना चाहिए. उन्होंने कार्यक्रम में उपस्थित युवाओं को अक्षय ऊर्जा को प्रोत्साहन देने की शपथ दिलाई और कहा कि पर्यावरण संरक्षण की दृष्टि से ऊर्जा के इस सर्वोत्तम विकल्प को अपनाने का संदेश जन-जन तक पहुंचाएं.

नई नीति की भी तैयारी
राजीव गांधी की 75वीं जयंती पर राजस्थान सरकार विभिन्न कार्यक्रमों का आयोजन कर रही हैं, मकसद हैं जो पहल राजीव गांधी के शासनकाल में रही, उनसे आमजन तक जानकारी पहुंचाई जाए. अक्षय ऊर्जा दिवस पर रिनुएबल एनर्जी में संभावनाओं को भी मंच से दशर्ज्ञया गया. आने वाले दिनों में गहलोत सरकार नई सौर और विंड ऊर्जा नीति लाकर नए निवेश को भी प्रोत्साहित करेगी.