मेट्रो में दिख रही जयपुर की हेरिटेज शैली, स्टेशन के अंदर हो रहा राजस्थानी संस्कृति का अहसास

मेट्रो सीएमडी भास्कर सावंत ने कहा, मेट्रो के निर्माण में जयपुर केहेरिटेज  स्वरूप को बरकरार रखने में कई चुनौतियों का सामना करना पड़ा. इस वजह से मेट्रो कार्य समय पर पूर्ण होने में देरी भी हुई.

मेट्रो में दिख रही जयपुर की हेरिटेज शैली, स्टेशन के अंदर हो रहा राजस्थानी संस्कृति का अहसास
मेट्रो में दिख रही जयपुर की हेरिटेज शैली. (फाइल फोटो)

विष्णु प्रकाश शर्मा/जयपुर: राजस्थान की राजधानी जयपुर के चांदपोल से बड़ी चौपड़ तक मेट्रो (Metro) ट्रेन शुरु होने के साथ ही हेरिटेज  गुलाबी नगर में आधुनिकता का भी संगम हो गया. आधुनिकता से लबरेज मेट्रो फेज वन बी के निर्माण में जयपुर की हेरिटेज  शैली का पूरा ध्यान रखा गया है. मेट्रो के लोकार्पण के दौरान मेट्रो अधिकारियों और खुद मुख्यमंत्री अशोक गहलोत (Ashok Gehlot) ने भी जयपुर के हेरिटेज स्वरूप को बरकरार रखते हुए इसके निर्माण की बात कही है.

मेट्रो सीएमडी भास्कर सावंत ने कहा, मेट्रो के निर्माण में जयपुर के हेरिटेज  स्वरूप को बरकरार रखने में कई चुनौतियों का सामना करना पड़ा. इस वजह से मेट्रो कार्य समय पर पूर्ण होने में देरी भी हुई. खुशी की बात यह है कि हेरिटेज में किसी प्रकार का बदलाव किए बिना मेट्रो का काम पूरा हुआ.

मुख्यमंत्री गहलोत ने भी कहा कि जयपुरवासियों की भावनाओं को ध्यान में रखते हुए मेट्रो का काम किया गया. इसी तरह जयपुर मेट्रो के ईडी सिविल अशोक धाकड़ ने भी छोटी-बड़ी चौपड़ मेट्रो स्टेशन में हेरिटेज  स्वरूप को बरकरार रखते हुए किए गए कार्यों की जानकारी दी. 

जानकारी के अनुसार, छोटी-बड़ी चौपड़ पर चारों खंदों में मेट्रो स्टेशन के प्रवेश द्वार बनाए गए हैं. इनसे स्टेशन पर प्रवेश करने के दौरान मेहराबदार जालियां लगी देखकर जयपुरी संस्कृति का अहसात होता है. इसके अलावा स्टेशन में गुलाबी झलक लिए सैंड स्टोन लगाया गया है. वहीं, स्टेशन के अंदर भी राजस्थानी संस्कृति का अहसास होता है.