Jaipur: त्योहारों पर Covid का साया, नहीं निकलेगी गणगौर की सवारी-रामनवमी की शोभायात्रा

गणगौर (Gangaur) की सवारी से लेकर रामनवमी (Rama Navami) पर निकलने वाली शोभायात्रा पर इस बार भी कोरोना का साया बना हुआ है. कलक्टर अंतर सिंह नेहरा (Antar Singh Nehra) ने कोरोना के बढ़ते संक्रमण के कारण 30 अप्रैल तक जयपुर (ग्रामीण) क्षेत्र में मेलों के आयोजनों पर रोक लगा दी है.

Jaipur: त्योहारों पर Covid का साया, नहीं निकलेगी गणगौर की सवारी-रामनवमी की शोभायात्रा
जयपुर जिले में भी कोरोना के आंकड़े तेजी के साथ बढ़ रहे हैं.

Jaipur: अप्रैल (April) में कोरोना (Corona) हर दिन नए रिकॉर्ड बना रहा है. जयपुर (Jaipur) जिले में प्रतिदिन 900 से ज्यादा कोरोना (Corona) के आंकड़े सामने आ रहे हैं. अब इसका असर धार्मिक आयोजनों (Religious events) पर भी देखने को मिल रहा है.

यह भी पढ़ें- बेहद फलदायी है चैत्र नवरात्रि, ऐसे करें पूजा, पूरी होगी हर मनोकामना

गणगौर (Gangaur) की सवारी से लेकर रामनवमी (Rama Navami) पर निकलने वाली शोभायात्रा पर इस बार भी कोरोना का साया बना हुआ है. कलक्टर अंतर सिंह नेहरा (Antar Singh Nehra) ने कोरोना के बढ़ते संक्रमण के कारण 30 अप्रैल तक जयपुर (ग्रामीण) क्षेत्र में मेलों के आयोजनों पर रोक लगा दी है.

यह भी पढ़ें- सिर पर सेहरा बांधकर लड़के यहां करे पूजा, 'कुंवारे' से बन जाएंगे 'शादीशुदा'

 

जयपुर ग्रामीण क्षेत्र में सभी मेलों के आयोजनों पर रोक
कोरोना संक्रमण (Corona infection) ने एक बार फिर उसी स्थिति में ढकेल दिया है, जहां हम एक साल पहले थे. कोरोना की दूसरी लहर ज्यादा तूफानी है. शहर-राज्यों से लेकर पूरा देश कोरोना संक्रमण के नए चिंताजनक रिकॉर्ड बना रहा है जबकि सभी को पता है कि मास्क लगाए रखने और दो गज की दूरी रखने से कोरोना की चैन टूट सकती है. ये काबू में आ सकता है. अब मजबूरन सरकार-प्रशासन को सख्ती करनी पड़ रही है. 

तेजी के साथ बढ़ रहे कोरोना के आंकड़े 
जयपुर जिले में भी कोरोना के आंकड़े तेजी के साथ बढ़ रहे हैं. मजबूरन प्रशासन को बड़े मेलों के आयोजनों पर रोक लगानी पड़ी. जयपुर जिला कलक्टर अंतर सिंह नेहरा ने पुलिस अधीक्षक (ग्रामीण) एवं जयपुर के सभी उपखंड अधिकारियों को एक आदेश जारी कर कहा है कि कोविड-19 कि बढ़ते मामलों को देखते हुए और संक्रमण को रोकने के लिए भीड़ के जमाव को रोकना अति आवश्यक है. 

आगामी दिनों में मेले-त्योहार आदि आयोजित होने वाले हैं. ऐसे में संक्रमण का खतरा बढ़ने की आशंका है, इसलिए यह अति आवश्यक है कि ग्रामीण क्षेत्र में (आयुक्तालय के अतिरिक्त) भरने वाले मेलों का आयोजन नहीं किया जाए. इस संबंध में नेहरा ने सभी पुलिस अधीक्षक (ग्रामीण) एवं उपखंड अधिकारियों को आदेश जारी कर कहा है कि सभी मेला आयोजकों से समन्वय स्थापित कर 30 अप्रैल 2021 तक मेलों का आयोजन नहीं करने हेतु कार्यवाही सुनिश्चित कराई जाए.

इस बार भी नहीं निकलेगी गणगौर की सवारी
जयपुर की स्थापना के बाद दूसरी बार परम्परागत गणगौर माता (Gangaur Mata) की सवारी कोरोना के चलते इस बार नहीं निकलेगी. राजस्थान (Rajasthan) के वैभव और रंगारंग संस्कृति के साथ ही लोकगीत-संगीत का पर्व दो दिवसीय गणगौर महोत्सव इस बार भी नहीं मनाया जाएगा. कोरोना वायरस के संक्रमण के चलते सिटी पैलेस से परम्परागत गणगौर माता की सवारी नहीं निकलेगी. 

सिटी पैलेस के अधीक्षक पंडित दिलीप शर्मा (Dileep Sharma) ने बताया कि जयपुर के पूर्व राजपरिवार की ओर से सिटी पैलेस परिसर में ही गणगौर माता की पूजा-अर्चना कर समृद्धि और शांति की कामना की जाएगी. दोनों दिन माता की सवारी की औपचारिकताएं सिटी पैलेस में ही होंगी. सिटी पैलेस के कर्मचारियों ने सैनेटाइजर के इस्तेमाल के साथ ही मास्क लगाकर माता को पालकी में विराजमान किया जाएगा.

नहीं निकलेगी रामनवमी की शोभायात्रा
रामनवमी पर शोभायात्रा की व्यवस्था देखने वाले प्रवीण भैया ने कहा कि कोरोना के बढ़ते केसों को देखते हुए इस बार भी रामनवमी की शोभायात्रा नहीं निकलेगी. परंपरा अनुसार पूजन होगा. 

गौरतलब है कि सूरजपोल अनाज मंडी (Surajpol Anaj Mandi) से रामनवमी पर शोभायात्रा करीब 40 साल से निकल रही है. चांदपोल स्थित राम मंदिर में 9 दिनों तक परंपरा अनुसार पूजन होगा. छोटी काशी के अन्य राम मंदिरों में भी संक्षिप्त आयोजन होंगे.