Jaipur News : 20 दिन से आंदोलन कर रहे हैं दिव्यांगजन, अब तक नहीं बनी सरकार से बात

20 दिनों से दिव्यांगजन (Disabled people) आंदोलन कर रहे हैं, लेकिन अब तक उनकी मांगों पर समाधान नहीं निकल पाया है. 

Jaipur News : 20 दिन से आंदोलन कर रहे हैं दिव्यांगजन, अब तक नहीं बनी सरकार से बात
राजस्थान के दिव्यांगजनों ने अनशन का रास्ता अपना लिया है.

Jaipur : राजस्थान (Rajasthan News) में 20 दिनों से दिव्यांगजन (Disabled people) आंदोलन कर रहे हैं, लेकिन अब तक उनकी मांगों पर समाधान नहीं निकल पाया है. इस संबंध में अफसरों से वार्ता भी हुई, लेकिन अब तक कोई निष्कर्ष नहीं निकल पाया. ऐसे में राजस्थान के दिव्यांगजनों ने अनशन का रास्ता अपना लिया है.

यह भी पढ़ें- पटवारी भर्ती परीक्षा में बंपर आवेदनों की भरमार, 1 पद के लिए 305 अभ्यर्थियों में होड़

राजस्थान में दिव्यांगों के कल्याण के लिए निशक्तजन अधिकार अधिनियम (Disabled rights act) लागू तो हो गया,लेकिन सिर्फ नाम का. दिव्य शक्ति को आगे बढ़ाने के लिए बनाए गए इस कानून के जरिए दिव्यांगों को आत्मनिर्भर बनाया जाता, लेकिन प्रदेश में ये कानून इतना कमजोर हो गया है कि दिव्यांग बिल्कुल लाचार हो गए हैं. 

राज्य में ना तो दिव्यांगों को 4 प्रतिशत आरक्षण का पूरा लाभ मिल पा रहा है और ना ही दूसरी योजनााओं में रियायत. ऐसे में राजस्थान में लगातार दिव्यांगों के अधिकारों का हनन हो रहा है. ऐसे में दिव्यांग सरकार से दया नहीं, बल्कि अपने अधिकारों की मांग कर रहे हैं.

पेंशन प्रतिमाह 3 हजार प्रतिमाह करने की मांग
दिव्यांगों की प्रमुख मांगों में से है एक उनकी पेंशन बढ़ोतरी की जाए. राजस्थान में फिलहाल 750 रूपए प्रतिमाह सरकारी पेंशन दी जाती है, लेकिन दिव्यांगों की मांग है कि उनकी पेंशन 3 हजार रूपए प्रतिमाह किया जाए. इसके साथ साथ वेंडर जोन में कियोस्क आवंटित किए जाए, विधायक कोटे से स्कूटी दी जाए. संविदा पर लगे कर्मचारियों को अस्थाई से स्थाई करने, पदोन्नति में आरक्षण का प्रावधान किया जाए. ताकि दिव्यांग आत्मनिर्भर बन सके.

कब खत्म होगा दिव्यांगों का संघर्ष
दिव्यांगजन अपने ही अधिकार के लिए संघर्ष कर रहे हैं. ऐसे में अब वे अपने आपकों लाचार और अपमानित महसूस कर रहे हैं. ऐसे में वे चाहते है कि सरकार दया नहीं, बल्कि उन्हें अपने अधिकार दे, ताकि प्रदेश की दिव्य शक्ति प्रदेश के विकास में काम आ सके.

यह भी पढ़ें- दौसा: 5500 रुपए की रिश्वत लेता पटवारी ट्रैप, जानिए किस मामले में मांगी थी राशि