Jaipur: 'प्रशासन गांवों के संग अभियान' में बेहतर कर कार्य करने वाले होंगे सम्मानित

मुख्य सचिव निरंजन आर्य (Niranjan Arya) ने वीडियो कॉन्फ्रेंस के माध्यम से प्रशासन गांव के संग अभियान की समीक्षा की और अधिकारियों को आवश्यक दिशा निर्देश दिए.

Jaipur: 'प्रशासन गांवों के संग अभियान' में बेहतर कर कार्य करने वाले होंगे सम्मानित
शिविरों की तिथि का निर्धारण जिला कलक्टर स्तर पर किया जाएगा.

Jaipur: आमजन की समस्याओं का मौके पर ही निस्तारण करने के लिए राज्य में 1 मई से ‘प्रशासन गांवों के संग’ अभियान चलाया जाएगा. यह अभियान करीब डेढ़ महीने चलेगा, जिसमें सभी 11341 ग्राम पंचायत मुख्यालय पर शिविर लगाए जाएंगे. शिविरों की तिथि का निर्धारण जिला कलक्टर स्तर पर किया जाएगा. 

यह भी पढ़ें- Rajasthan के पुलिसकर्मियों के लिए राहत की खबर, Roadways यात्रा में हटाई गई ये शर्त

मुख्य सचिव निरंजन आर्य (Niranjan Arya) ने वीडियो कॉन्फ्रेंस के माध्यम से प्रशासन गांव के संग अभियान की समीक्षा की और अधिकारियों को आवश्यक दिशा निर्देश दिए. उन्होंने कहा कि आमजन से सीधे जुड़े हुए विभागों के अधिकारी कर्मचारी शिविर में मौजूद रहेंगे और लोगों की समस्याओं का निस्तारण करेंगे. इसके साथ ही उन्होंने कहा कि शिविर में अच्छा कार्य करने वाले कर्मचारियों को आगामी स्वतंत्रता दिवस पर सम्मानित भी किया जाएगा.

यह भी पढ़ें- Covid Vaccination में अब पार्षद निभाएंगे प्रभावी भूमिका, वार्ड के लोगों को करेंगे जागरूक

मुख्य सचिव आर्य ने अभियान के दौरान होने वाली विभिन्न विभागों की गतिविधियों पर बिन्दुवार चर्चा कर आवश्यक नई गतिविधियां जोड़ने के निर्देश दिए. उन्होंने कहा कि अभियान के दौरान आमजन को बेहतर सेवाएं मुहैया कराने के लिए अधिकारी विभागीय स्तर पर समुचित तैयारियां कर लें. साथ ही शिविर के पूर्व की जाने वाली गतिविधियों को चिह्नित कर कार्यक्रम तैयार कर लें, ताकि लोगों को शिविर में मौके पर ही लाभ दिया जा सके.

बैठक में ये लोग रहे मौजूद
बैठक में राजस्व विभाग प्रमुख सचिव आनंद कुमार, राजस्थान ऊर्जा विकास निगम लिमिटेड के प्रबंध निदेशक रोहित गुप्ता मौजूद रहे. विभिन्न विभागों के अतिरिक्त मुख्य सचिव, प्रमुख शासन सचिव एवं शासन सचिव वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग से शामिल हुए.