Jaipur में Rajasthan Agriculture Students Association ने दिया धरना, रखी यें मांगें

सैकड़ों कृषि विद्यार्थियों (Agricultural students) ने 7 सूत्री मांगों को लेकर धरना प्रदर्शन किया. कृषि विभाग ने हाल ही में 882 कृषि पर्यवेक्षकों के पद पर विज्ञप्ति जारी की है. 

Jaipur में Rajasthan Agriculture Students Association ने दिया धरना, रखी यें मांगें
राजस्थान में करीब 3 हजार से 4 हजार कृषि पर्यवेक्षक के पद वर्तमान में रिक्त चल रहे हैं.

Jaipur: राजस्थान एग्रीकल्चर स्टूडेंटस एसोसिएशन (Rajasthan Agriculture Students Association) के बैनर तले आज शहीद स्मारक (Shaheed Smarak) पर अपनी मांगों को लेकर एक दिवसीय धरना दिया गया. 

यह भी पढ़ें- Rajasthan में इस तारीख को होगी कृषि विद्यार्थी खोज परीक्षा, विजेता को मिलेगा यह इनाम

 

सैकड़ों कृषि विद्यार्थियों (Agricultural students) ने 7 सूत्री मांगों को लेकर धरना प्रदर्शन किया. कृषि विभाग ने हाल ही में 882 कृषि पर्यवेक्षकों के पद पर विज्ञप्ति जारी की है. साथ ही बजट घोषणा पत्र में 1025 कृषि पर्यवेक्षक की नई भर्ती की भी घोषणा की है.

यह भी पढ़ें- राजस्थान विधानसभा में उठा बीएससी एग्रीकल्चर छात्रों के दाखिले से जुड़ा मामला

धरना दे रहे विद्यार्थियों ने मांग की है कि वर्तमान में प्रक्रियाधीन कृषि पर्यवेक्षक भर्ती में सभी पदों को जोड़कर भर्ती पूर्ण की जाए जबकि राजस्थान में करीब 3 हजार से 4 हजार कृषि पर्यवेक्षक के पद वर्तमान में रिक्त चल रहे हैं.

क्या कहना है राजस्थान एग्रीकल्चर स्टूडेंटस एसोसिएशन अध्यक्ष का
राजस्थान एग्रीकल्चर स्टूडेंटस एसोसिएशन के प्रदेश अध्यक्ष सीताराम ने बताया कि "राजस्थान में 12वीं के बाद कृषि से स्नातक करने के लिए JET (संयुक्त प्रवेश परीक्षा) आयोजित करवाई जाती है. परीक्षा में कृषि विश्वविद्यालय द्वारा आवेदन की फीस 2890 रुपये ली जाती है जबकि भारत में NEET और JEE की परीक्षा में भी आवेदन की फीस अधिकतम 500 से 700 रुपये ली जाती है. ऐसे में कृषि पर्यवेक्षक की भर्ती की फीस भी 500 रुपये की जाए." 

हालांकि धरना देने के बाद जब प्रशासन से वार्ता हुई तो तीन मांगों पर सहमति बनने के बाद धरने को समाप्त करने की घोषणा की गई. इसके साथ ही चेतावनी दी है कि जल्द ही उनकी मांगों को लेकर कोई आदेश जारी नहीं हुए तो एक बार फिर से आंदोलन किया जाएगा.