close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

जयपुर: सेवानिवृत रोडवेज कर्मचारियों ने रैली निकालकर मुख्यालय पर किया प्रदर्शन

 बुद्दवार को बडी संख्या में प्रदेशभर से रिटायर्ड कर्मचारियों ने जयपुर पहुंचकर रैली निकाली और रोडवेज के खिलाफ नारेबाजी कर आक्रोश जताया. 

जयपुर: सेवानिवृत रोडवेज कर्मचारियों ने रैली निकालकर मुख्यालय पर किया प्रदर्शन
रिटायर्ड कर्मचारियों ने बकाया परिलाभों का भुगतान को लेकर विरोध किया.

दामोदर प्रसाद/जयपुर: सेवानिवृत रोडवेज कर्मचारियों ने रैली निकालकर रोडवेज मुख्यालय पर प्रदर्शन किया. समस्त बकाया सेवानिवृति परिलाभों के भुगतान एवं विभिन्न जवलंत मांगों के समाधान को लेकर आरएसआरटीसी रिटायर्ड के आह्वान पर दूसरे चरण की रैली व प्रदर्शन किया. करीब डेढ हजार सेवानिवृत कर्मचारी सुबह 11:30 बजे चौमूं हाउस से रैली के रूप रवाना होकर रोडवेज मुख्यालय पर पहुंचे नारेबाजी कर आक्रोश जताया.

आरएसआरटीसी रिटायर्ड एम्पलाईज एसोसिएशन द्वारा आंदोलन के पहले चरण में 18 जून को पूरे प्रदेश में स्थित रोडवेज की इकाइयों पर सेवानिवृत रोडवेज कर्मचारियों द्वारा धरने देकर विरोध प्रदर्शन किया गया था. पूरे प्रदेश में लगभग 3 हजार सेवानिवृत रोडवेज कर्मचारियों ने भागीदारी निभाई थी. एसोसिएशन की इकाईयों द्वारा मुख्य प्रबंधकों के माध्यम से रोडवेज के प्रबंध निदेशक को मांगों पर ज्ञापन सौंपा गया था. 

हालांकि जब रोडवेज प्रशासन ने ज्ञापन पर गंभीरता नहीं दिखाई तो बुद्दवार को बडी संख्या में प्रदेशभर से रिटायर्ड कर्मचारियों ने जयपुर पहुंचकर रैली निकाली और रोडवेज के खिलाफ नारेबाजी कर आक्रोश जताया. जुलाई महीने में रोडवेज प्रशासन रिटायर्ड कर्मचारियों का बकाया परिलाभों का भुगतान एवं विभिन्न ज्वलंत मांगों के समाधान कर राहत प्रदान करे.

पूर्व भाजपा सरकार में 22 दिन चले कर्मचारियों की हड़ताल के दौरान वर्तमान उपमुख्यमंत्री और परिवहन मंत्री ने मौके पर पहुंचकर मंच पर वादा किया था कि यदि राजस्थान में कांग्रेस सरकार सत्ता में आती है तो रोडवेज कर्मचारी और रिटायर्ड कर्मचारियों के बकाया भुगतानों करेगी. लेकिन कांग्रेस सत्ता में आने के 5 महीने गुजर जाने के बाद भी इस दिशा में कोई कार्रवाई नहीं की गई. इससे सेवानिवृत रोडवेज कर्मचारियों में जबरदस्त आक्रोश व्याप्त हो रहा है.

कर्मचारियों के भुगतान के अलावा भी ग्रेच्युटी पर ब्याज,रोडवेज पेंशनर्स का महंगाई भत्ता और ओवरटाइम सहित अन्य भुगतान नहीं हो रहे. जिनके समाधान के लिए कर्मचारी आंदोलनरत है. रोडवेज मुख्याल पर आयोजित आमसभा को एटक प्रदेशाध्यक्ष एमएल यादव, महासचिव धर्मवीर चौधरी, आरएसआरटीसी रिटायर्ड एम्पलाईज सहित कई श्रमिक नेताओं ने मंच से संबोधित करते हुए चेतावनी दी कि सेवानिवृत कर्मचारियों को शीघ्र बकाया भुगतान नहीं किया गया तो संयुक्त व्यापक आंदोलन बडे रूप में किया जाएगा.