close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

जयपुर: छात्रावास में खाने में कीड़े मिलने की घटना के बाद अधीक्षक का हुआ तबादला

हॉस्टल की पोल खुलने के बाद में विभाग ने लापरवाह अधीक्षक मंजू वर्मा का तबादला गांधी नगर के बाल गृह में कर दिया गया है. 

जयपुर: छात्रावास में खाने में कीड़े मिलने की घटना के बाद अधीक्षक का हुआ तबादला
अब छात्रावास में मैस कमेटी की निगरानी में भोजन करवाया जाएगा.

जयपुर: सामाजिक न्याय अधिकारिता विभाग के सरकारी गर्ल्स हॉस्टल में खाने में कीड़े मिलने की खबर जी राजस्थान पर प्रसारित होने के बाद हडकंप मच गया था. विभाग के आला अधिकारियों को ये समझ नहीं आया कि आखिर इतना भारी भरकम बजट जारी होने के बावजूद भी इतनी भारी लापरवाही कैसे हो गई. यहां तक कि मंत्री मास्टर भंवरलाल मेघवाल भी कुछ महीने पहले इसी हॉस्टल के दौरे के लिए पहुंचे थे. 

हॉस्टल की पोल खुलने के बाद में विभाग ने लापरवाह अधीक्षक मंजू वर्मा का तबादला गांधी नगर के बाल गृह में कर दिया गया है. अब मंजू वर्मा की जगह अंजूलता मीणा को छात्रावास अधीक्षक के तौर पर लगाया गया है. इसके साथ साथ सामाजिक न्याय अधिकारिता विभाग ने छात्रावास में 5 सदस्यों की मैस कमेटी का भी गठन किया है.

लापरवाही ये भी सामने आई थी कि छात्रावास में अधीक्षक ने कोई मैस कमेटी का भी गठन नहीं किया था. नियम ये कहते हैं कि प्रत्येक छात्रावास में खाने की देखरेख के लिए मैस कमेटी का गठन किया जाता है लेकिन जांच में ये सामने आया था कि मैस कमेटी का गठन नहीं किया गया था. अब छात्रावास में मैस कमेटी का गठन किया गया है, जिसमें अधीक्षक समेत पांच छात्राओं को इसमें शामिल किया गया.

अब छात्रावास में इसी कमेटी की निगरानी में छात्रावास में भोजन करवाया जाएगा. मंत्री मास्टर भंवरलाल मेघवाल ने प्रदेश के सभी छात्रावासों में जांच के बाद ही खाना सर्व करने के आदेश दिए है. जी मीडिया की खबर के बाद में जरूर विभाग की आंखे खुल गई हो, लेकिन प्रदेश में और भी कई छात्रावास ऐसे हैं जहां से ऐसी तस्वीरें सामने ही नहीं आती ऐेसे में सरकारी सिस्टम में अभी भी काफी सुधार की जरूरत है.