BJP का चिंतन, मिशन 2023 पर रहेगा पूरा फोकस
X

BJP का चिंतन, मिशन 2023 पर रहेगा पूरा फोकस

भारतीय जनता पार्टी की कुम्भलगढ़ उदयपुर में होने वाली चिंतन बैठक में पूरा फोकस मिशन 2023 (Missoin 2023) को लेकर होगा. साथ ही पार्टी (BJP) को निचले स्तर पर सशक्त बनाने और जन सरोकार के मुद्दे उठाने पर भी मंथन होगा.

BJP का चिंतन, मिशन 2023 पर रहेगा पूरा फोकस

Jaipur : भारतीय जनता पार्टी की कुम्भलगढ़ उदयपुर में होने वाली चिंतन बैठक में पूरा फोकस मिशन 2023 (Missoin 2023) को लेकर होगा. साथ ही पार्टी (BJP) को निचले स्तर पर सशक्त बनाने और जन सरोकार के मुद्दे उठाने पर भी मंथन होगा. इधर चिंतन बैठक के दौरान भाजपा कोर कमेटी की बैठक भी होगी, जिसमें अहम निर्णय लिए जाएंगे.

गौरतलब है कि पार्टी से राष्ट्रीय संगठन महामंत्री बीएल संतोष मौजूदगी में 21 और 22 सितम्बर को कुम्भलगढ़ में चिंतन बैठक होगी. चिंतन बैठक को लेकर भाजपा प्रदेशाध्यक्ष सतीश पूनिया (Satish Poonia) ने कहा कि चिंतन बैठक में भाजपा का पूरा फोकस मिशन 2023 रहेगा. उन्होंने कहा कि चिंतन राजनीतिक शब्द नहीं, चिंतन, मंथन मनन पुरातन शब्द है. जनसंघ के कालखंड से लेकर भाजपा में चिंतन, अभ्यास वर्ग की परम्परा चली आ रही है. बैठक में कार्यों की निरंतर समीक्षा और भविष्य की कार्ययोजना पर चिंतन किया जाएगा. पूनिया ने कहा कि बैठक में पार्टी को नीचे स्तर तक सशक्त बनाने के साथ ही प्रदेश में ऐसे सामाजिक और राजनीतिक मुद्दे हैं जिन्हें जनहित में उठाया जा सकता है, उन पर मंथन किया जाएगा.

यह भी पढे़- Rajasthan Weather Update:30 सितम्बर तक राज्यभर में झमाझम बारिश! जारी हुई चेतावनी
 
कोर कमेटी की बैठक भी होगी 
भाजपा प्रदेशाध्यक्ष सतीश पूनिया ने कहा कि चिंतन बैठक के दौरान कोर कमेटी की बैठक होगी. उन्होंने कहा कि पार्टी में कोर कमेटी पूरा फोरम है. यह महत्वपूर्ण फोरम है. बैठक में कमेटी में शामिल तमाम सदस्य हिस्सा लेंगे.

उप चुनाव से पहले देंगे एकजुटता का मंत्र
चिंतन बैठक में राष्ट्रीय संगठन महामंत्री बीएल संतोष विधानसभा उप चुनाव से पहले राजस्थान भाजपा नेताओं को एकजुटता का मंत्र देंगे. अभी भाजपा में नेता लॉबिंग के रूप में अपने नेता के लिए अलग अलग बयान दे रहे हैं. इन बयानों को लेकर पार्टी अलाकमान ने भी गंभीरता से लिया है. ऐसे में समझा जा रहा है कि चिंतन बैठक में संगठन महामंत्री नेताओं से एकजुटता के लिए बात करेंगे. दूसरी ओर उप चुनाव के चलते उदयपुर में ही बैठक आयोजित की गई है. उदयपुर संभाग की वल्लभनगर और धरियावाद सीट पर उपचुनाव होने हैं. इस दो दिवसीय महामंथन के दौरान उप चुनाव की जीत के लिए एकजुटता का मंत्र भी नेताओं को दिया जाएगा.

Trending news