Churu में सील भवन की File मंगवाई गई Jaipur, सहायक नगर नियोजक निलंबित, जानें मामला

सहायक नगर नियोजक ने न तो इसकी जानकारी राज्य सरकार (State Government) को दी और न ही विभागाध्यक्ष को. बिना स्वीकृति लिए और उच्चाधिकारियों की जानकारी के बिना ही इस तरह की गतिविधि से चौधरी की कार्यशैली कठघरे में आ गई. 

Churu में सील भवन की File मंगवाई गई Jaipur, सहायक नगर नियोजक निलंबित, जानें मामला
प्रतीकात्मक तस्वीर.

Jaipur: प्रदेश में बिल्डिंग बायलॉज के विपरीत निर्माण के मामलों में अफसर आए दिन कठघरे में आते रहते हैं. अफसरों की मिलीभगत का सिलसिला लगातार जारी है. 

यह भी पढे़ं- Kailash Meghwal पर हुए हमले को लेकर भड़की BJP, Poonia बोले- Congress की मौन साजिश है

 

ऐसा ही मामला स्वायत्त शासन विभाग में नियुक्त रहे सहायक नगर नियोजक का सामने आया है. सहायक नगर नियोजक राजपाल चौधरी (Rajpal Chaudhary) ने चूरू जिले में सील किए गए भवन से जुड़ी फाइल और दस्तावेज जयपुर मंगवा लिए. 

यह भी पढे़ं- RSS क्षेत्रीय प्रचारक के खिलाफ प्रस्ताव पारित होने पर फूटा BJP का गुस्सा, Poonia बोले- दुर्भाग्यपूर्ण है

 

सहायक नगर नियोजक ने न तो इसकी जानकारी राज्य सरकार (State Government) को दी और न ही विभागाध्यक्ष को. बिना स्वीकृति लिए और उच्चाधिकारियों की जानकारी के बिना ही इस तरह की गतिविधि से चौधरी की कार्यशैली कठघरे में आ गई. इधर मामला स्वायत्त शासन मंत्री शांति धारीवाल (Shanti Dhariwal) तक पहुंचा. धारीवाल ने तत्काल विभाग को एक्शन लेने के निर्देश दे दिए. 

जांच के बाद और साफ होगी स्थिति 
स्वायत्त शासन विभाग के निदेशक दीपक नंदी ने चौधरी को निलंबित कर लिया. निलंबन काल में उनका मुख्यालय नगर परिषद बांसवाड़ा कर दिया गया. नंदी ने बताया कि ऐसे कृत्य पर सख्त कार्रवाई होगी. जांच के बाद स्थिति और साफ होगी कि आखिर किस कारण से सील भवन की पत्रावली तलब की गई. यह भवन अधिशासी अधिकारी, नगर पालिका छापर ने 22 जुलाई को सील किया था.