कलेक्टर ने सुनी बुजुर्ग महिला की फरियाद, 2 घंटे तक चैंबर में खुद की जांच
X

कलेक्टर ने सुनी बुजुर्ग महिला की फरियाद, 2 घंटे तक चैंबर में खुद की जांच

वैसे तो तहसीलदार से लेकर कलेक्टर के दफ्तरों तक रोजाना कई फरियादी अपनी फरियाद लेकर पहुंचते हैं और अक्सर आरोप लगते हैं कि अधिकारी उनकी समस्याओं का समाधान नहीं करवाते हैं.

कलेक्टर ने सुनी बुजुर्ग महिला की फरियाद, 2 घंटे तक चैंबर में खुद की जांच

Jaipur: वैसे तो तहसीलदार से लेकर कलेक्टर के दफ्तरों तक रोजाना कई फरियादी अपनी फरियाद लेकर पहुंचते हैं और अक्सर आरोप लगते हैं कि अधिकारी उनकी समस्याओं का समाधान नहीं करवाते हैं. लेकिन जब एक बुजुर्ग महिला अपनी फरियादी लेकर बेटे के साथ फरियाद लेकर टोंक जिला कलेक्टर चिनमयी गोपाल के पास पहुंची तो कलेक्टर ने उसकी शिकायत को इतनी गंभीरता से लिया कि पटवारी से लेकर अतिरिक्त जिला कलेक्टर को चेम्बर में बुलवा लिया. तमाम दस्तावेजों की बैठकर दो घंटे खुद ने जांच की. इतना ही नहीं बुजुर्ग फरियादी को चाय नाश्ता तक करवा उसको संतुष्ठ किया.

दरअसल पूरा मामला सदर पुलिस थाना क्षेत्र के रूस्तमगंज गांव निवासी 70 वर्षीय बुजुर्ग घीसी देवी नाई का है, जो अपने छोटे बेटे और पोती के साथ जिला कलेक्टर चिनमयी गोपाल के पास अपनी बरसों पुरानी समस्या के समाधान की फरियाद लेकर पहुंची. समस्या भी किसी ओर से नहीं अपने बड़े बेटे राजेश नाई से है. पीड़िता ने आरोप लगाया कि उसके बड़े बेटे राजेश ने षडयंत्र पू्र्वक उसकी पत्नी संगीता के नाम दान पत्र लिखवा लिया और उसके बाद गांव के ही बन्नालाल जाट के नाम रजिस्ट्री करवा दी. 

यह भी पढ़ें-ई-ग्रास चालान में जालसाजी, 3 माह की जांच रिपोर्ट के बाद एक्शन

वहीं, मकान के पास ही उसका बाड़ा है और उसमें पानी के लिए बोरिंग भी करवा रखा है. अपने घरेलू सामान रखे हुए हैं. पीड़िता ने आरोप लगाया है कि बन्नालाल जाट लाठियों के बल पर उसके मकान पर कब्जा करना चाहता है और आए दिन उसके साथ मारपीट, गालीगलौच करते हैं. पीड़िता का आरोप तो यह भी है कि एक पुलिस का अधिकारी है सुखलाल जाट वो भी वर्दी की धौंस दिखा कर डराता धमकाता है. इसके लिए सदर पुलिस थाने में एफआईआर भी दर्ज करवाई है लेकिन किसी ने कोई सुध नहीं ली. आज कलेक्टर से मिल कर फरियाद लगाई है, उम्मीद है कि जल्द समाधान होगा.

यह भी पढ़ें-Rajasthan Computer Teacher Vacancy: बेरोजगारों के लिए शिक्षा विभाग की ओर से बड़ी खबर

वहीं, कलेक्टर चिनमयी गोपाल से जब पूरे मामले को लेकर जानकारी ली तो उन्होंने खुद बताया कि करीब दो घंटे तक बुजुर्ग महिला की शिकायत की जांच पड़ताल करवाई गई है. फिलहाल इनका कोई पारिवारिक विवाद सामने आया है लेकिन फिर भी अधिकारियों को मौके पर भेज कर जांच करवाई जाएगी. जो भी दोषी होगा उसके खिलाफ सख्त कार्रवाई करवा कर समाधान करवाया जाएगा. फिलहाल तो कलेक्टर ने बुजुर्ग पीड़िता को आश्वासन देकर राहत दी है और अधिकारियों को दिशा निर्देश भी दिए हैं. लेकिन इंतजार है कि कब इस बुजुर्ग पीड़िता की समस्या का समाधान होगा. 

Report-Purushottam Joshi

Trending news