बफर स्टॉक रखते हुए ऑक्सीजन की निर्बाध आपूर्ति सुनिश्चित करें: मुख्य सचिव

सीएस ने कहा कि राज्य स्तरीय अधिकारियों की टीम हर समय सतर्क रहे और जिला कलेक्टरों के निरंतर संपर्क में रहते हुए जरूरत के अनुसार ऑक्सीजन की व्यवस्था करें.

बफर स्टॉक रखते हुए ऑक्सीजन की निर्बाध आपूर्ति सुनिश्चित करें: मुख्य सचिव
सीएस ने ऑक्सीजन की आपूर्ति एवं अन्य कोविड प्रबंधन की समीक्षा की.

Jaipur: मुख्य सचिव निरंजन आर्य ने राज्य में चक्रवाती तूफान (Cyclone Tauktae) से विशेष परिस्थितियां उत्पन्न होने की आशंका के मद्देनजर ऑक्सीजन का बफर स्टॉक रखने और ऑक्सीजन की निर्बाध आपूर्ति सुनिश्चित करने के निर्देश दिए हैं. आर्य शासन सचिवालय में प्रभारी अधिकारियों के साथ ऑक्सीजन की आपूर्ति एवं अन्य कोविड प्रबंधन की समीक्षा कर रहे थे.

मुख्य सचिव आर्य ने जिलावार समीक्षा करते हुए कहा कि अधिकतर जिलों में ऑक्सीजन के बफर स्टॉक की व्यवस्था है, लेकिन राज्य स्तरीय अधिकारियों की टीम हर समय सतर्क रहे और जिला कलेक्टरों के निरंतर संपर्क में रहते हुए जरूरत के अनुसार ऑक्सीजन की व्यवस्था करें.

ये भी पढ़ें-Corona के बाद अब ब्लैक फंगस पर गंभीर सरकार, दवाइयों के लिए निकाला ग्लोबल टेंडर

 

उन्होंने तेज हवा एवं बरसात से बिजली व्यवधान की आशंका को देखते हुए अस्पतालों, ऑक्सीजन प्लांट्स एवं अन्य आपातकालीन स्थानों पर जनरेटर के माध्यम से बिजली की वैकल्पिक व्यवस्था सुनिश्चित करने के निर्देश दिए. बैठक में बताया गया कि जिला कलेक्टरों के अनुसार सभी जिलों में जरूरी डीजी सेट्स की व्यवस्था कर ली गई है. 
 
आर्य ने ब्लैक फंगस के उपचार में काम आने वाली दवा की व्यवस्था करने के लिए केन्द्र सरकार के अधिकारियों से निरन्तर सम्पर्क में रहने और फार्मा कम्पनियों से चर्चा कर विदेश से सीधे दवा मंगाने की संभावना तलाशने के निर्देश दिए.

ये भी पढ़ें-Rajasthan में दिव्यांग छात्र-छात्राओं, युवाओं को मिलेगी स्कूटी, CM गहलोत ने दी मंजूरी

 

खान एवं पेट्रोलियम विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव सुबोध अग्रवाल ने विदेशों से खरीदे गए Oxygen Concentrator की हो रही डिलीवरी के संबंध में अवगत कराया. मुख्यमंत्री के प्रमुख सचिव  कुलदीप रांका ने निजी अस्पतालों में रोगियों को चिरंजीवी बीमा योजना के तहत आसानी से इलाज मुहैया कराना सुनिश्चित करने के निर्देश दिए.