राजस्थान आयकर विभाग को मिली बड़ी कामयाबी, तीन कारोबारी समूहों पर मारा छापा
X

राजस्थान आयकर विभाग को मिली बड़ी कामयाबी, तीन कारोबारी समूहों पर मारा छापा

जयपुर में राजस्थान आयकर अन्वेषण शाखा की छापेमारी में करोड़ों रुपये की अघोषित संपत्ति और लेन-देन की जानकारी सामने आई है.

राजस्थान आयकर विभाग को मिली बड़ी कामयाबी,  तीन कारोबारी समूहों पर मारा छापा

Jaipur: राजस्थान आयकर विभाग (Income Tax Department) को हालिया रेड में बड़ी कामयाबी मिली है. 500 करोड़ रुपये की आयकर चोरी उजागर करने का दावा इनकम टैक्स विभाग कर रहा है. इसमें से 72 करोड़ रुपये की अघोषित आय को तीनों कारोबारी समूहों ने स्वीकार भी किया है. अफ्रीका से रंगीन रत्न और स्टोंस मंगवाकर कैश में बेचकर अघोषित आय अर्जित करने की जानकारी भी आयकर छापे में सामने आई है. 

मुख्य बिंदु
राजस्थान में तीन कारोबारी समूहों पर आयकर छापे का मामला सामने आया. 
500 करोड़ रुपये की अघोषित आय उजागर होने का दावा.  
72 करोड़ रुपये की आयकर चोरी कारोबारी समूहों ने स्वीकार की. 
4 करोड़ रुपये की नकदी छापेमारी में बरामद हुई. 
9 करोड़ रुपये की ज्वैलरी भी आयकर विभाग ने जब्त की. 
आयकर विभाग ने जयपुर, उदयपुर समेत 50 जगह छापे मारे थे. 
अफ्रीका से रंगीन रत्न और स्टोंस मंगवाकर कैश में बेचने का आरोप
इस पूरे प्रोसेस में करोड़ों रुपये की अघोषित आय अर्जित की. 
शेयर बाजार, सेज में भी निवेश के दस्तावेज मिले है. 
बड़ी संख्या में डिजिटल दस्तावेजों की जांच जारी है. 
ज्वैलरी और फाइनेंस कारोबार से बरड़िया और फाइनेंसर ग्रुप जुड़े हुए हैं. 

जयपुर (Jaipur News) में राजस्थान आयकर अन्वेषण शाखा की छापेमारी में करोड़ों रुपये की अघोषित संपत्ति और लेन-देन की जानकारी सामने आई है. जयपुर के तीन कारोबारी समूह पर मारे गए छापे में अब तक चार करोड़ रुपये नगद राशि जब्त की जा चुकी है.

यह भी पढ़ेंः Sikar: किसानों के करोड़ों रुपए लेकर फरार हुए व्यापारी गिरफ्तार, नेपाल भागने की थी तैयारी

वहीं, 9 करोड़ रुपये की ज्वेलरी भी आयकर विभाग ने जब्त की है. कारोबारी समूह के पचास ठिकानों पर मारे गए छापों में पेनड्राइव और डिजिटल दस्तावेज में बड़ी संख्या में अवैध लेनदेन और कारोबार की जानकारी मिली है. 

सहयोगी कंपनियों की ओर से किए जा रहे कारोबार में वित्तीय अनियमितताएं सामने आई है. आयकर विभाग ने इस सप्ताह ज्वेलरी और फाइनेंस कारोबार से जुड़े बड़े कारोबारी समूहों पर छापा मारा था. जयपुर, उदयपुर और मुंबई में हुई कार्रवाई में 50 ठिकानों पर जांच पूरी हो चुकी है. कारोबारियों के आवास और मुख्य दफ्तरों पर आयकर विभाग की टीम को मिले दस्तावेजों की जांच जारी है. 

Trending news