CI ने तीन दिन मजदूर बनकर आरोपी को ढूंढा, गिरफ्तार कर बाजार में घुमाया
X

CI ने तीन दिन मजदूर बनकर आरोपी को ढूंढा, गिरफ्तार कर बाजार में घुमाया

झुंझुनूं (Jhunjhunu News) के नवलगढ़ में सीआई सुनिल शर्मा ने एक आरोपी को पकड़ने के लिए ग्रेनाइट की फैक्ट्री में तीन दिन तक मजदूरों के भेष में मजदूरी करके आरोपी को गिरफ्तार किया है. 

CI ने तीन दिन मजदूर बनकर आरोपी को ढूंढा, गिरफ्तार कर बाजार में घुमाया

Jhunjhunu : राजस्थान के झुंझुनूं (Jhunjhunu News) के नवलगढ़ में सीआई सुनिल शर्मा ने एक आरोपी को पकड़ने के लिए ग्रेनाइट की फैक्ट्री में तीन दिन तक मजदूरों के भेष में मजदूरी करके आरोपी को गिरफ्तार किया है. आरोपी भी कम शातिर नहीं था. वो गिरफ्तारी से बचने के लिए जंगलों में छुपता रहा, लेकिन फिर भी पुलिस के हत्थे चढ़ गया. सीआई सुनिल शर्मा (Jhunjhunu CI Sunil Sharma) ने बताया कि 25—26 अगस्त की दरमियान रात को नवलगढ़ कस्बे में आरके डिर्पाटमेंटल स्टोर में आग लग गई थी. जिसके दो दिन बाद दुकान मालिक महेश सैनी ने अज्ञात व्यक्ति के खिलाफ फिरौती मांगने और फिरौती ना देने पर आग लगाने की धमकी देने का मामला दर्ज करवाया था. जिसके बाद पुलिस (Jhunjhunu Police) के लिए यह केस सुलझाना चुनौती बन गया था. 

पुलिस ने इस मामले में जांच की तो पता चला कि ताजसर सीकर निवासी अंकित शर्मा ने ही महेश सैनी को इंटरनेट से इंटरनेशनल कॉलिंग की थी. पुलिस ने अंकित शर्मा को गिरफ्तार किया तो उसने इस मामले में मास्टर माइंट और मुख्य आरोपी का नाम गोल्याणा निवासी कानसिंह उर्फ कृष्णा उर्फ कनसा का नाम लिया कि उसने कहने पर ही उसने कॉल किया था और फिरौती उसने मांगी थी. अंकित के पकड़े जाने की सूचना के बाद कनसा फरार हो गया और एक राज्य से दूसरे राज्य में छिपता फिर रहा था. पुलिस भी लगातार उसका पीछा कर रही थी. 

पुलिस को सूचना लगी कि वह तेलंगाना इलाके में है. जिस पर सीआई सुनिल शर्मा और कांस्टेबल मुकेश हैदराबाद से 200 किलोमीटर दूर एक गांव पहुंचे. जहां पर माइंस आदि का काम होता है. वहां पर उन्होंने एक ग्रेनाइट फैक्ट्री मालिक नितिन रेड्डी का सहयोग लिया. ग्रेनाइट फैक्ट्री मालिक ने सीआई सुनिल शर्मा को पूरा सहयोग का वादा किया. जिसके बाद ना केवल उन्हें रहने के लिए जगह दी. बल्कि उन्हें मजदूर टाइप के कपड़े भी उपलब्ध करवाए. ताकि वे एक मजदूर की तरह यहां रह सके और आरोपी की तलाश कर सके. 

यह भी पढ़े- मालपुरा में जैन, हिंदुओं के पलायन का मामला, BJP नेताओं ने राज्यपाल को सौंपा ज्ञापन

मजदूरों के बीच मजदूरी करके सीआई सुनिल शर्मा और कांस्टेबल मुकेश ने अन्य मजदूरों से आरोपी की फोटो दिखाकर पहचान की तो पता चला कि यह युवक कभी कभार मजदूरों के पास खाना खाने के लिए आता है. जिस पर खुद सुनिल शर्मा ने जानकारी पुख्ता की और नवलगढ़ से टीम बुलाकर आरोपी कनसा को दबोच लिया. आज कनसा को घटना शिनाख्ती के लिए थाने से घटना स्थल तक पैदल लाया गया. 

इस दौरान बड़ी संख्या में पुलिस जाब्ता भी था. सीआई सुनिल शर्मा ने बताया कि आज थाने की गाड़ी कहीं गई हुई थी और घटना स्थल कस्बे में ही था. इसलिए करीब एक किलोमीटर ही आरोपी को घटना स्थल तक लाया गया और घटना स्थल की शिनाख्त करवाई गई. इस दौरान पीड़ित परिवार के सदस्य, खासकर महिलाएं गुस्से में हो गई और आरोपी से मारपीट की कोशिश की गई. लेकिन पुलिस जाब्ता ज्यादा होने के कारण आरोपी के हाथ नहीं लगा पाई.

यह भी पढ़े- चौमूं नगर पालिका या नरक पालिका, सड़क के किनारे लगे कचरे के ढेर

तीन दिन तक मजदूर बने रहे सीआई और कांस्टेबल
जानकारी के मुताबिक 14 सितंबर को सीआई सुनिल शर्मा कांस्टेबल मुकेश के साथ हैदराबाद पहुंचे. जिसके बाद वहां से करीब 200 किलोमीटर दूरी पर स्थित एक गांव पहुंचे. जहां वे लगातार मजदूर के भेष में रहे. 16 सितंबर तक वे इसी भेष में रहे. नवलगढ़ से टीम पहुंचने के बाद उन्होंने कनसा को दबोचा और वापिस रवाना हुए.

व्यापारियों ने तालियों से किया पुलिस का स्वागत
शनिवार को जब आरोपी कनसा को पुलिस थाने से घटना स्थल तक लेकर गई तो कई जगहों पर व्यापारियों ने तालियां बजाकर पुलिस कार्रवाई का स्वागत किया. क्योंकि पुलिस ने मामला दर्ज होते ही एक आरोपी अंकित को दबोच लिया था. वहीं, अब पुलिस ने जंगलों में छुपे दूसरे और मुख्य आरोपी को भी दबोचकर सफलता हासिल की है.

अंकित के 10 हजार रूपए मांगता था कनसा
इस मामले में पूर्व में गिरफ्तार आरोपी अंकित शर्मा के कनसा 10 हजार रूपए मांगता था. अंकित की यह स्थिति नहीं थी कि वह कनसा को यह पैसे लौटा सके. इसलिए दोनों ने और अधिक पैसे कमाने और अंकित ने अपनी पुरानी उधारी चुकाने के चक्कर में इस वारदात में कनसा का साथ दिया.

डरा और सहमा हुआ दिखा कनसा
पहले फोन पर धमकी, फिर आग लगाने की घटना से खौफ पैदा करने वाले आरोपी कनसा के चेहरे पर भी शनिवार को डर और खौफ दिखा. वह पूरे रास्ते चारों ओर देखता और घबराता हुआ पहुंचा. वहीं लोगों की भीड़ और गुस्से को कनसा ने भी भांप लिया. वो काफी डरा, सहमा और खौफजदा दिखाई दिया.

Report : Sandeep Kedia

Trending news