REET के बाद प्रदेश की दूसरी सबसे बड़ी परीक्षा, Exam को लेकर सख्त दिशा निर्देश जारी
X

REET के बाद प्रदेश की दूसरी सबसे बड़ी परीक्षा, Exam को लेकर सख्त दिशा निर्देश जारी

26 सितम्बर को आयोजित रीट अध्यापक पात्रता परीक्षा के बाद एक बार फिर से प्रदेश में एक बड़ा परीक्षा आयोजन की तैयारियां पूरी हो चुकी है. 

REET के बाद प्रदेश की दूसरी सबसे बड़ी परीक्षा, Exam को लेकर सख्त दिशा निर्देश जारी

Jaipur : 26 सितम्बर को आयोजित रीट अध्यापक पात्रता परीक्षा के बाद एक बार फिर से प्रदेश में एक बड़ा परीक्षा आयोजन की तैयारियां पूरी हो चुकी है. राजस्थान कर्मचारी चयन बोर्ड (RSSB) की ओर से 5 हजार 378 पदों पर पटवारी भर्ती परीक्षा का आयोजन 23 और 24 अक्टूबर को होने जा रहा है, जिसमें प्रदेश के 15 लाख 62 हजार 995 अभ्यर्थी अपने भाग्य को आजमाएंगे.

23 और 24 अक्टूबर 2021 को होने वाली पटवारी सीधी भर्ती परीक्षा (Patwari Exam) की तैयारियां राजस्थान कर्मचारी चयन बोर्ड की ओर से पूरी कर ली गई है. 5 हजार 378 पदों पर आयोजित होने वाली इस परीक्षा में कुल 15 लाख 62  हजार 995 परीक्षार्थी पंजीकृत हैं तो वहीं इन अभ्यर्थियों में से महिला अभ्यर्थी संख्या है 5 लाख 2 हजार 307. इसके साथ ही परीक्षा के लिए कर्मचारी चयन बोर्ड की ओर से निर्धारित की गई ड्रेस कोड की पालना करना भी अनिवार्य होगी. ड्रेस कोड की पालना नहीं करने वाले अभ्यर्थियों को परीक्षा केन्द्र (Patwari Direct Recruitment Exam) में प्रवेश नहीं दिया जाएगा.

23 और 24 अक्टूबर को आयोजित होने जा रही पटवारी सीधी भर्ती परीक्षा
15 लाख 62 हजार 995 अभ्यर्थी परीक्षा के लिए पंजीकृत
10 लाख 60 हजार 688 पुरुष अभ्यर्थी,5 लाख 2 हजार 307 महिला अभ्यर्थी पंजीकृत
परीक्षा को लेकर राजस्थान कर्मचारी चयन बोर्ड ने तैयारियं की पूरी
परीक्षा के लिए महिला और पुरुष अभ्यर्थियों के लिए ड्रेस कोड किया निर्धारित
बिना ड्रेस कोड वाले अभ्यर्थियों को परीक्षा केन्द्र में नहीं दिया जाएगा प्रवेश

यह भी पढ़ें- BJP ने जारी की स्टार प्रचारकों की सूची, राज्य से सभी केंद्रीय मंत्री, पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे शामिल

राजस्थान कर्मचारी चयन बोर्ड की ओर से निर्देशों की अवहेलना करने वाले अभ्यर्थियों को भी सख्त हिदायत जारी कर दी गई है. ऐसे कार्य करने वाले अभ्यर्थियों के खिलाफ कठोर और दंडात्मक कार्रवाई करने के निर्देश दिए गए हैं. साथ ही परीक्षा केन्द्र में अवांछित सामग्री ले जाने का प्रयास करने,नकल करने, अभ्यर्थियों के स्थान पर फर्जी अभ्यर्थी बैठाने या प्रयास करने वाले अभ्यर्थियों की परीक्षा निरस्त जाकर बोर्ड द्वारा आगामी समय में आयोजित परीक्षाओं में एक निश्चित अवधि से लेकर आजीवन तक के लिए प्रतिबंधित किया जा सकता है.

परीक्षा केन्द्रों पर किसी प्रकार के कीमती सामान,आभूषण एवं परम्परागत आभूषण, मोबाइल, सभी प्रकार के इलेक्ट्रोनिक सामान और ऐसी वस्तु जो परीक्षा केन्द्र में प्रवेश के समय साथ ले जाने की अनुमति नहीं होगी. इसके साथ ही परीक्षा के लिए जो समय निर्धारित किया गया है. उससे एक घंटे पहले अभ्यर्थियों को परीक्षा केन्द्रों पर रिपोर्टिंग करने के साथ ही परीक्षा समय के बाद प्रवेश नहीं दिया जाएगा.

Trending news