संस्कृत शिक्षा विभाग में लंबित भर्तियां जल्द की जाएं पूरी: मंत्री डॉ. सुभाष गर्ग

मंत्री ने संस्कृत शिक्षा विभाग में डीपीसी के माध्यम से जल्द पदोन्नति किए जाने तथा वैदिक संस्कार एवं शिक्षा बोर्ड की स्थापना के लिए वेबिनार का आयोजन करने के भी निर्देश दिए.  

संस्कृत शिक्षा विभाग में लंबित भर्तियां जल्द की जाएं पूरी: मंत्री डॉ. सुभाष गर्ग
संस्कृत शिक्षा विभाग की समीक्षा बैठक का आयोजन किया गया.

Jaipur: संस्कृत शिक्षा मंत्री डॉ सुभाष गर्ग की अध्यक्षता में शुक्रवार को संस्कृत शिक्षा विभाग की समीक्षा बैठक का आयोजन किया गया. संस्कृत शिक्षा विभाग के अधिकारियों के साथ आयोजित इस बैठक में मंत्री ने विभिन्न विषयों को लेकर अधिकारियों को निर्देश दिए. संस्कृत शिक्षा राज्य मंत्री डॉ. सुभाष गर्ग ने संस्कृत शिक्षा में लम्बित भर्तियों को शीघ्र पूरा करने के निर्देश दिए हैं. साथ ही संस्कृत शिक्षा विभाग में डीपीसी के माध्यम से जल्द पदोन्नति किए जाने तथा वैदिक संस्कार एवं शिक्षा बोर्ड की स्थापना के लिए वेबिनार का आयोजन करने के भी निर्देश दिए.

इसके साथ ही मंत्री सुभाष गर्ग ने जगतगुरू रामानंद आचार्य संस्कृत विश्ववविद्यालय में तथा संस्कृत शिक्षा निदेशालय में जनसंपर्क अधिकारी के एक-एक पद सृजित करवाने के भी निर्देश दिए. संस्कृत शिक्षा मंत्री ने बजट घोषणा 2019-20 के अनुसार वैदिक संस्कार एवं शिक्षा बोर्ड के गठन के ड्राफ्ट पर चर्चा की साथ ही शीघ्र ही वेबिनार आयोजित कर विषय विशेषज्ञों से वैदिक संस्कार एवं शिक्षा बोर्ड के गठन हेतु सुझाव लिए जाने के निर्देश दिए.

ये भी पढ़ें-राजस्थान: भर्तियों को लेकर सचिवालय में हुई बैठक, CS बोले-सभी विभाग खाली पदों पर भर्ती की समय सीमा तय करें

 

मंत्री डॉ सुभाष गर्ग ने कहा, 'वैदिक संस्कार एवं शिक्षा बोर्ड की स्थापना के लिए आयोजित होने वाली वेबिनार में देश के विभिन्न विषय विशेषज्ञों को आमंत्रित किया जाएगा. वेबिनार में निर्णय लिया जाएगा कि वैदिक संस्कार एवं शिक्षा बोर्ड का स्वरूप क्या होगा, कैसे होगा उसकी कार्यप्रणाली क्या होगी और उनमें किन-किन कोर्स को शामिल किया जाएगा.'

इसके साथ ही मंत्री ने कहा, 'संस्कृत कॉलेज या विश्वविद्यालय में प्रथम वर्ष व द्वितीय वर्ष के छात्रों को प्रमोट करने तथा अंतिम वर्ष की परीक्षा से संबंधित प्रक्रिया का अनुमोदन करवाने के अधिकारियों को निर्देश दिए गए हैं. साथ ही संस्कृत शिक्षा के शाला दर्पण को शीघ्र ही पूरा करके पूरे सिस्टम को ऑनलाइन करने के निर्देश भी अधिकारियों को दिए गए हैं. शिक्षकों की वेतन से संबंधित समस्याओं एवं नियुक्तियों से संबंधित समस्याओं का शीघ्रता से निस्तारण करने साथ ही 7वें पे कमीशन की कार्यवाही शुरू करने को लेकर भी अधिकारियों को निर्देशित किया गया है.'

ये भी पढ़ें-Rajasthan: RBSE ने छात्रों को प्रमोट करने के लिए समिति का किया गठन, 1 हफ्ते में देगी रिपोर्ट