Rajasthan में तेज हुई सियासी हलचल! Pilot से मिलने पहुंचे 8 करीबी विधायक

राजस्थान में कांग्रेस के भीतर चल रहे सियासी घमासान पार्ट 2 में आज जयपुर में पायलट आवास पर कई रोचक और अहम सियासी तस्वीरें नजर आई. 

Rajasthan में तेज हुई सियासी हलचल! Pilot से मिलने पहुंचे 8 करीबी विधायक
दोनों नेताओं के बीच करीब आधे घंटे तक चली इस बातचीत में विश्वेंद्र सिंह ने सचिन पायलट के समक्ष अपना स्टैंड रखा.

Jaipur : राजस्थान में कांग्रेस के भीतर चल रहे सियासी घमासान पार्ट 2 में आज जयपुर में पायलट आवास पर कई रोचक और अहम सियासी तस्वीरें नजर आई. कल तक मुख्यमंत्री अशोक गहलोत की तारीफें करने वाले कांग्रेस के वरिष्ठ विधायक और पूर्व मंत्री विश्वेंद्र सिंह ने आज सचिन पायलट (Sachin Pilot) के उनके आवास पर जाकर मुलाकात की. दोनों नेताओं के बीच करीब आधे घंटे तक चली इस बातचीत में विश्वेंद्र सिंह ने सचिन पायलट के समक्ष अपना स्टैंड रखा. 

यह भी पढे़ं- कोरोना में मदद के लिए जुटे सचिन पायलट, ट्विटर पर कर रहे समस्या का निस्तारण

विश्वेंद्र सिंह (Vishvendra Singh) ने कल ऑफ कैमरा बयान देते हुए कहा था कि मुख्यमंत्री अशोक गहलोत (CM Ashok Gehlot) राजस्थान के मुख्यमंत्री हैं वे आलाकमान की पसंद है, लेकिन उन्होंने यह भी कहा कि उनकी अधिकांश मांगे पूरी हो गई है और वह वे अशोक गहलोत और सचिन पायलट के बीच सेतु बनाने का काम करेंगे, लेकिन आज सुबह यू-टर्न लेते हुए सचिन पायलट से मुलाकात के दौरान उन्होंने अपना पक्ष क्लियर किया और सचिन पायलट कैंप के प्रति भी अपनी निष्ठा व्यक्त की. विश्वेंद्र सिंह के अलावा आज पायलट के कैंप के छह और भाजपा के एक विधायक ने भी उनसे मुलाकात की. 

कांग्रेस के विधायकों में पी आर मीणा, राकेश पारीक, मुकेश भाकर, रामनिवास गावड़िया, जीआर खटाना और वेद प्रकाश सोलंकी शामिल रहे. पायलट कैंप (Pilot Camp) के विधायक पी आर मीणा ने सचिन पायलट से मुलाकात के बाद अशोक गहलोत से भी मुलाकात की. भाजपा के संगरिया विधानसभा सीट से विधायक गुरदीप शाहपिनी भी आज सचिन पायलट से मिले. भाजपा विधायक की इस मुलाकात के बाद सियासी हलकों में कई तरह की चर्चाएं शुरू हो गई. 

विधायक गुरदीप ने जी मीडिया को बताया कि वे अपने एक परिचित सरपंच के एक काम के सिलसिले में सचिन पायलट से मुलाकात करने आए थे. पंचायती राज विभाग में किसी अधिकारी से सरपंच का काम था लेकिन उन्हें यहां आकर पता चला कि पायलट के घर पर मीडिया का जमावड़ा है. टीवी चैनल पर खबर चलने के बाद भाजपा नेताओं के फोन आने लगे तो गुरदीप को सफाई देनी पड़ी. पायलट कैंप के कांग्रेस विधायकों ने भी सचिन पायलट से मुलाकात की. कल होने वाले कांग्रेस पार्टी के महंगाई के खिलाफ प्रदर्शन और राजेश पायलट की पुण्यतिथि के अवसर पर होने वाले वर्चुअल कार्यक्रम को लेकर चर्चा हुई. विधायकों ने वर्तमान सियासी हालातों पर भी पायलट के साथ मंथन किया.

यह भी पढे़ं- टोडाभीम विधायक का बड़ा बयान, देश में Congress सरकार होती तो हालात चीन से बेहतर होते