Rajasthan: 7 जिलों में पंचायतीराज चुनाव के लिए 15 अगस्त के बाद लगेगी आचार संहिता

प्रदेश में कोरोना (Corona) के केसों की संख्या कम होने के बाद राज्य निर्वाचन आयोग ने 12 जिलों में चुनाव के लिए तैयारियां पूरी कर ली थी. 

Rajasthan: 7 जिलों में पंचायतीराज चुनाव के लिए 15 अगस्त के बाद लगेगी आचार संहिता
प्रतीकात्मक तस्वीर.

Jaipur: पंचायतीराज चुनाव (Panchayati Raj Elections) से शेष रहे 12 जिलों में जिला परिषद, पंचायत समिति चुनाव (Panchayat samiti election) कराने के लिए राज्य निर्वाचन आयोग (State Election Commission) ने तैयारियां पूरी कर ली है. अगस्त के पहले सप्ताह में 7 जिलों के लिए आचार संहिता लगाने की तैयारी कर रहे आयोग को अब 15 अगस्त तक इंतजार करना पड़ेगा. 

यह भी पढे़ं- पंचायत उप चुनाव 2021: सरपंच के लिए 130 उम्मीदवार मैदान में, 27 को होगी वोटिंग

 

प्रदेश में कोरोना (Corona) के केसों की संख्या कम होने के बाद राज्य निर्वाचन आयोग ने 12 जिलों में चुनाव के लिए तैयारियां पूरी कर ली थी. आयोग चुनाव के लिए आचार संहिता (Code of conduct) लगाने के लिए तैयार था. लेकिन पंचायतों के पुनर्गठन को लेकर 3 जिलों की 5 ग्राम पंचायतों ने हाईकोर्ट में रिट लगा दी, जिस पर हाईकोर्ट ने पंचायतीराज और राज्य निर्वाचन आयोग ने नोटिस जारी कर इस पर चुनाव कराने से पहले जवाब मांग लिया है. 

यह भी पढे़ं- DDC-पंचायत सदस्य चुनाव की तैयारी शुरू, निर्वाचन आयुक्त ने अधिकारियों संग की बैठक

 

हाईकोर्ट के नोटिस को लेकर राज्य निर्वाचन आयोग के अधिकारियों का कहना है कि इससे चुनाव पर कोई असर नहीं पड़ेगा. उनका कहना है कि इसमें कहीं भी जिला परिषद, पंचायत समिति के चुनाव रोकने के लिए नहीं कहा गया. पंचायत चुनाव को लेकर उनका आदेश है, लेकिन अभी पंचायतों के चुनाव नहीं है. हालांकि उन्होंने 13 अगस्त को अपना जवाब देने की बात कही है. जिसके लिए उन्होंने तैयारी कर ली है हालांकि आगे की प्रक्रिया हाईकोर्ट के आदेश पर निर्भर करेगी. अगर हाईकोर्ट चुनाव पर रोक नहीं लगाता है तो आयोग 15 अगस्त के बाद चुनाव कार्यक्रम जारी कर सकता है. 

इन ग्राम पंचायतों ने पुनर्गठन को दी चुनौती

  • कोटा की खेड़ली तवरान, किशोरपुरा
  • करौली की गोठड़ा
  • बारां की बार्ला, मेरमा चाह
  • 12 जिलों की 4079 ग्राम पंचायतों के मतदाता करेंगे मतदान

चुनाव के लिए आयोग कलक्टरों से कर चुका चर्चा
माना जा रहा है कि पहले चरण में आयोग 7 जिलों में चुनाव कर सकता है. इसके लिए जिला कलक्टरों से आयोग ने चर्चा कर ली है. कलक्टरों को आवश्यक तैयारियां रखने के निर्देश दिए हैं. आयोग शुरूआत में भरतपुर, दौसा, जयपुर, जोधपुर, सवाईमाधोपुर, सिरोही और श्रीगंगानगर जिलों में चुनाव कराने के लिए तैयार है. यहां पर ईवीएम की फर्स्ट लेवल चैकिंग का काम भी शुरू कर दिया गया है.