RHB ने वैक्सीनेशन कैंप का किया आयोजन, टीका के बाद लोगों ने सेल्फी-स्नैक्स का उठाया लुफ्त

Jaipur News: वैक्सीनेंशन कैंप में कार्मिक और उनके परिजन गुड फील कर सकें इसके लिए सेल्फी बूथ से लेकर कुर्सियां लगाकर वेटिंग एरिया बनाया गया.

RHB ने वैक्सीनेशन कैंप का किया आयोजन, टीका के बाद लोगों ने सेल्फी-स्नैक्स का उठाया लुफ्त
आरएचबी ने टीकाकरण के लिए कैंप का आयोजन किया.

Jaipur: कोराना से बचाव के लिए वैक्सीन लगवाना जरूरी है. इसी क्रम में राजस्थान हाउसिंग बोर्ड (Rajasthan Housing Board) में वैश्विक महामारी कोविड-19 (COVID-19) से बचाव के लिए 18 से 44 वर्ष के मंडल कार्मिकों और उनके परिवार के सदस्यों के लिए वैक्सीनेशन कैंप आयोजित किया गया.

वैक्सीनेंशन कैंप में कार्मिक और उनके परिजन गुड फील कर सकें इसके लिए सेल्फी बूथ से लेकर कुर्सियां लगाकर वेटिंग एरिया बनाया गया. कैंप में 325 से अधिक कार्मिकों और उनके परिवारजनों ने वैक्सीन लगवाई. शहर के अलग-अलग हिस्सों से जो तस्वीरें सामने आई, उसमें अक्सर देखा गया की वैक्सीन लगवाने के लिए लाइनों में लगे लोग सोशल डिस्टेसिंग भूल गए. लेकिन इससे इतर एक तस्वीर राजस्थान हाउसिंग बोर्ड के दफ्तर में देखने को मिली.

यहां 18 से 44 वर्ष तक के मंडल कार्मिकों और उनके परिवारजनों के लिए वैक्सीनेशन कैंप आयोजित किया गया. लेकिन इस वैक्सीनेशन सेंटर की तस्वीर चुनावों में बनाए जाने वाले आदर्श मतदान केंद्र से कम नहीं थी. जिस तरह फर्स्ट टाइम वोटर मतदान करने के बाद खुशी से सेल्फी बूथ पर जाकर फोटो खिंचवाता है, उसी तरह राजस्थान आवासन मंडल पवन अरोड़ा की पहल पर लगे मंडल मुख्यालय पर वैक्सीनेशन कैंप में वैक्सीन लगवाने के बाद लॉन में बने सेल्फी बूथ पर कार्मिकों ने अपने परिजनों के साथ फोटो खिंचवाई.

ये भी पढ़ें-Sikar: वैक्सीनेशन में आ रही यह बड़ी समस्या, DM बोले- ठीक करने का कर रहे प्रयास

 

इस वैक्सीनेशन सेंटर पर सोशल डिस्टेसिंग का पालन करवाने के लिए कुर्सिंया लगाकर वेटिंग एरिया बनाया गया. इसके साथ ही वैक्सीन के बाद अल्पाहार, फल और कॉफी की भी विशेष व्यवस्था की गई. इसके साथ वैक्सीन रिकॉर्ड संधारण के लिए 5 कम्प्यूटर ऑपरेटर लगाए गए, ताकि वैक्सीन लगवाने वालों को असुविधा न हो. चिकित्सा विभाग के कार्मिंकों का कहना था कि इस तरह की व्यवस्था पहली बार किसी संस्थान में देखने को मिली है.

राजस्थान आवासन मंडल के आयुक्त पवन अरोड़ा ने बताया कि वैश्विक महामारी कोविड-19 से बचाव के लिए सोमवार को मंडल मुख्यालय में 18 से 44 वर्ष तक के मंडल कार्मिकों और उनके परिवारजनों के लिए वैक्सीनेशन कैंप आयोजित किया गया. इस कैम्प में 325 से अधिक कार्मिकों और उनके परिवारजनों ने वैक्सीन लगवाई.

यह वैक्सीनेशन कैंप मंगलवार को भी जारी रहेगा, इसके लिए 300 से अधिक लोगों द्वारा पंजीकरण करवाया गया है. मंडल मुख्यालय में वैक्सीनेशेन के लिए कोविड प्रोटोकोल के हिसाब से व्यापक व्यवस्था की गई. वैक्सीनेशन स्थल को विशेष रूप से सजाया गया. 

ये भी पढ़ें-कोरोना में समाजसेवी-भामाशाहों ने बढ़ाया मदद का हाथ, बाटें मास्क, सैनिटाइजर-राशन

 

आयुक्त ने बताया कि मंडल कार्मिकों को फ्रंटलाइन वर्कर मानते हुए यह सभी कार्मिकों को एक साथ वैक्सीन लगवाने का निर्णय लिया गया. गौरतलब हैं कि 45 वर्ष से अधिक के कार्मिकों के लिए मंडल द्वारा अप्रैल माह में यूथ हॉस्टल में वैक्सीनेशन कैंप का आयोजन किया जा चुका है. अरोड़ा ने चिकित्सा विभाग के शासन सचिव सिद्धार्थ महाजन का वैक्सीनेशन कैंप की व्यवस्थाओं के धन्यावाद दिया. आयुक्त ने वैक्सीनेशन करने वाले चिकित्सा विभाग के स्टाफ को गिफ्ट देकर अभिनंदन किया.

कोरोना से खिलाफ जंग में मुख्यमंत्री गहलोत के नेतृत्व में बेहद संजीदगी और गंभीरता के साथ प्रयास किए गए हैं. मुख्यमंत्री की मंशा के अनुरूप आवासन मंडल ने कोरोना महामारी से लड़ने के लिए प्रारंभ से ही अग्रणी पहल की है. पहले मंडल के सभी कार्यालयों में सैनिटाइजेशन स्टेशन स्थापित किए गए.

इसके बाद 1 लाख निःशुल्क फेस मास्क का वितरण किया गया. 'नो मास्क-नो एंट्री' के स्वागत द्वार बनाए गए. अब वैक्सीन आने पर मंडल के सभी कार्मिकों के वैक्सीन लगवाए गए. इसके साथ ही मंडल निःशुल्क वितरण के लिए एक लाख फेस मास्क और तैयार करवा रहा है.

उन्होंने कर्मचारियों को टीकाकरण के बाद भी कोविड-19 से बचाव के दिशा-निर्देशों का पालन करने का सुझाव दिया, जिसमें लगातार हाथ धोना, सैनिटाइजेशन, मास्क या फेस कवर पहनना और सामाजिक दूरी शामिल हैं.