कोतवाली इलाके के मंदिरों में चोरी, 64 किलो चांदी हुई गायब

मंदिर प्रशासन की ओर से दर्ज शिकायत के बाद एडिश्नल डीसीपी धर्मेन्द्र सागर के निर्देश पर थानाधिकारी कोतवाली विक्रम सिंह चारण के नेतृत्व में एक स्पेशल टीम का गठन किया गया.

कोतवाली इलाके के मंदिरों में चोरी, 64 किलो चांदी हुई गायब
प्रतीकात्मक तस्वीर.

Jaipur: शहर के कोतवाली इलाके के लालजी सांड रास्ता स्थित जैन मंदिरों से चोरी हुई 64 किलो चांदी की वारदात का खुलासा करते हुए पुलिस ने 2 आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है. एसीपी कोतवाली मेघचंद मीणा (Meghchand Meena) ने ताया कि लालजी सांड के रास्ता स्थित श्री दिगंबर जैन मंदिर छोटे दीवान, चैत्यालय टोडरका और मेघराज लुहाड़िया मंदिर में से बदमाशों ने 64 किलों चांदी के बर्तन व अन्य सामान चुरा लिया थे. 

मंदिर प्रशासन की ओर से दर्ज शिकायत के बाद एडिश्नल डीसीपी धर्मेन्द्र सागर के निर्देश पर थानाधिकारी कोतवाली विक्रम सिंह चारण के नेतृत्व में एक स्पेशल टीम का गठन किया गया. टीम ने मामले की जांच करते हुए आरोपी सचिन जैन को हिरासत में लेकर पूछताछ की तो सामने आया कि मंदिर में केयर टेकर का काम करने वाले दीपक जैन के साथ मिलकर उसने चोरी की वारदात की थी. वारदात के बाद आरोपी दीपक जैन (Deepak Jain) जबलपुर फरार हो गया था.

यह भी पढ़ेंः जासूसी के आरोप में गिरफ्तार संदीप धायल मामले में आया नया मोड़, परिजन ने रखा अपना पक्ष

वहीं, आरोपी सचिन मानसरोवर में ही एक अन्य मंदिर में काम करने लगा था. चांदी को चुराने के बाद बदमाशों ने सट्टा खेलने और उधारी चुकाने में चांदी का इस्तेमाल किया. साथ हीं, बदमाशों ने कुछ कबाड़ियों और जेवरात व्यापारियों को भी चांदी बेच दी थी. चांदी को कैमिकल के जरिए गलाया जा रहा था. फिलहाल कोतवाली पुलिस बदमाशों की गिरफ्तारी के बाद चोरी हुई चांदी को बरामद करने के प्रयास कर रही है.