Rajasthan Weather Update: 16 और 17 अक्टूबर को बारिश की संभावना, किसानों को सुरक्षित स्थान पर भंडारण की सलाह
X

Rajasthan Weather Update: 16 और 17 अक्टूबर को बारिश की संभावना, किसानों को सुरक्षित स्थान पर भंडारण की सलाह

इन दोनों सिस्टमों के कारण राजस्थान के कई हिस्सों में बरसात होगी.

Rajasthan Weather Update: 16 और 17 अक्टूबर को बारिश की संभावना, किसानों को सुरक्षित स्थान पर भंडारण की सलाह

Jaipur: प्रदेश में मौसम बदलने के साथ ही गुलाबी सर्दी का अहसास शुरू होने लगा है, आने वाले दिनों में एक बार फिर से प्रदेश में मौसम (Weather) बदलने की परिस्थितियां अनुकूल बनती हुई नजर आ रही है, जिसके चलते प्रदेश में आचनक ही सर्दी का असर भी बढ़ने की संभावना है.

प्रदेश में बीते कुछ दिनों से लोगों को गर्मी और उमस से राहत मिलने लगी है, जिसकी वजह है कश्मीर (Kashmir) में हो रही बर्फबारी (Snowfall), तो वहीं अब प्रदेश में दो सिस्टम के सक्रिय होने से आने वाले दिनों में प्रदेश के 4 संभागों में एक बार फिर से बारिश (Rain) का तंत्र बनने की संभावना बन रही है, जिसकी वजह से 16 और 17 अक्टूबर को जयपुर (Jaipur News), भरतपुर (Bharatpur), कोटा (Kota) और बीकानेर संभाग में हल्की से मध्यम दर्जे की बारिश होने की संभावना है. इस सिस्टम का असर 18-19 अक्टूबर तक रहेगा.

यह भी पढ़ें- Petrol-Diesel Price Today: पेट्रोल-डीजल 16 दिन में 13 बार महंगा, जानें कितने बढे़ भाव

जयपुर मौसम केंद्र (Jaipur Meteorological Station) के निदेशक डॉ. राधेश्याम के मुताबिक राज्य में आगामी दिनों में एक नया बारिश (Rain) का क्षेत्र बनने जा रहा है. उन्होंने बताया कि इसके प्रभाव से राजस्थान (Rajasthan News) में 16 और 17 अक्टूबर को ज्यादातर भागों में पूर्वी हवाओं का दौर रहेगा. इलके साथ ही पश्चिम विक्षोभ भी उत्तर-पश्चिम भारत के क्षेत्रों में सक्रिय रहेगा. इन दोनों सिस्टमों के कारण राजस्थान के कई हिस्सों में बरसात होगी.

यह भी पढ़ें- खुशखबरी: दिवाली पर फोड़ सकेंगे पटाखे, सरकार ने ग्रीन आतिशबाजी को दी मंजूरी

मौसम विभाग (Weather Department) द्वारा सलाह देते हुए कहा गया है कि मौसमी तंत्र के मध्य नजर किसानों (Farmers) को सलाह दी जाती है कि जो फसलें पक कर तैयार हो चुकी हैं, उन्हें भीगने से बचाने के लिए सही व्यवस्था करें. कृषि मंडियों, खेतों में खुले आसमान में रखे अनाज को बरसात में भीगने से बचाने के लिए सुरक्षित स्थान पर भंडारण करें.

Trending news