close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

जैसलमेर: भारतीय सेना ने जीती पांचवी अंतर्राष्ट्रीय आर्मी स्काउट मास्टर प्रतियोगिता

जैसलमेर के आर्मी केंट में आयोजित हो रही यह प्रतियोगिता 6 अगस्त से आरम्भ हुई थी. अंतर्राष्ट्रीय मानकों पर आधारित इस प्रतियोगिता में सेना की एक्सपर्टीज को लेकर रणक्षेत्र में होने वाली विभिन्न गतिविधियों को पांच अलग अलग चरणों में बांटा गया था.

जैसलमेर: भारतीय सेना ने जीती पांचवी अंतर्राष्ट्रीय आर्मी स्काउट मास्टर प्रतियोगिता
फाइल फोटो

मनीष रामदेव, जैसलमेर: अंतर्राष्ट्रीय आर्मी स्काउट मास्टर प्रतियोगिता के पांचवे सीजन का आयोजन पहली बार भारत में किया गया. जिसमें 7 देशों की सैन्य टीमों के साथ भारतीय सेना की टीम ने भी पहली बार हिस्सा लिया. सैन्य दक्षता के अभ्यास की इस प्रतियोगिता को पांच चरणों में आयोजित किया गया. जिसमें सभी स्टेज में भारतीय सेना की टीम ने पहला स्थान प्राप्त करते हुए प्रतियोगिता को अपने नाम किया. 

इससे पहले इस प्रतियोगिता के चार चरणों का आयोजन रूस में किया जाता रहा है. प्रतियोगिता में भारत सहित रूस, चाईना, कजाकिस्तान, आर्मेनिया, बेलारूस, सूडान और उजबेकिस्तान की टीमों ने भी हिस्सा लिया था. जैसलमेर के आर्मी केंट में आयोजित हो रही यह प्रतियोगिता 6 अगस्त से आरम्भ हुई थी. अंतर्राष्ट्रीय मानकों पर आधारित इस प्रतियोगिता में सेना की एक्सपर्टीज को लेकर रणक्षेत्र में होने वाली विभिन्न गतिविधियों को पांच अलग अलग चरणों में बांटा गया था. जिसमें सभी देशों की सेनाओं ने जीत के लिए अपना पूरा दमखम लगा दिया था लेकिन भारतीय सैनिकों ने अपने ऊंचे मनोबल के साथ रूस और चीन सहित सभी देशों को पछाड़ते हुए प्रतियोगिता में पहला स्थान प्राप्त कर लिया है.

इस प्रतियोगिता में जहां भारत पहले स्थान पर रहा है. वहीं दूसरे स्थान पर उजबेकिस्तान, तीसरे स्थान पर रूस, चौथे स्थान पर चीन, पांचवे स्थान पर कजाकिस्तान, छठे स्थान पर बेलारूस, सांतवे स्थान पर अर्मेनिया और अंतिम स्थान पर सूडान की टीम रही. सेना प्रवक्ता संबित घोष ने जानकारी देते हुए बताया कि भारतीय सेना की टीम ने इस प्रतियोगिता में बेहतर प्रदर्शन करते हुए अव्वल स्थान प्राप्त किया है. घोष ने यह भी बताया कि इस प्रतियोगिता का समापन आज 10 बजे जैसलमेर आर्मी स्टेशन में किया जाएगा जिसमें केन्द्रीय रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह और थलसेनाध्यक्ष बिपिन रावत और दक्षिणी कमान के जेओसी लेण् जनरल एसण्केण् सैनी मुख्य अतिथि के रूप में मौजूद रहेंगे. वहीं इस अवसर पर भाग लेने वाले देशों के अधिकारी और अंतर्राष्ट्रीय आयोजन समिति के सदस्य भी मौजूद रहेंगे.