Jaisalmer: रामगढ़ में गर्माया ज़मीन आवंटन का मामला, Congress पूर्व जिलाध्यक्ष पर लगे आरोप

जैसलमेर (Jaisalmer) के सीमावर्ती कस्बे रामगढ़ में आज एक रैली के रूप में सभी ग्रामीण पुलिस थाना रामगढ़ और उप तहसील पहुंचे. 

Jaisalmer: रामगढ़ में गर्माया ज़मीन आवंटन का मामला, Congress पूर्व जिलाध्यक्ष पर लगे आरोप
प्रतीकात्मक तस्वीर.

Jaisalmer: रामगढ़ कस्बे (Ramgarh Town) में गौशाला की ज़मीन आवंटन (Land allocation) का मामला गर्मा गया है. लोगों ने कांग्रेस (Congress) के पूर्व जिला अध्यक्ष पर आरोप लगाया है कि जिस जगह गौशाला को आवंटन किया है, वो गलत और फर्जी है जबकि वहां ग्रामीणो के लिए रहवासी होना चाहिए. 

यह भी पढ़ें- PM Modi संसद में भावुक हो सकते हैं, पर किसानों की मौत पर चुप क्यों हैं: Ajay Maken

इसको लेकर दो गुट आमने-सामने हो गए हैं. ग्रामीणों ने गौशाला का ज़मीन आवंटन निरस्त करने की मांग को लेकर जिला कलेक्टर के नाम ज्ञापन भी सौंपा है.

यह भी पढ़ें- Rajasthan Assembly के Budget Session में दूसरे दिन BJP का हंगामा, नाराज हुए स्पीकर

जैसलमेर (Jaisalmer) के सीमावर्ती कस्बे रामगढ़ में आज एक रैली के रूप में सभी ग्रामीण पुलिस थाना रामगढ़ और उप तहसील पहुंचे. पुलिस उप अधीक्षक और नायाब तहसीलदार को कलेक्टर के नाम ज्ञापन सौंपा. ज्ञापन में बताया कि रामगढ़ में सूर्यपुत्र शनिदेव के नाम से एक संस्था बनी हुई, जिन्हें मिलीभगत से बिजलीघर के पास जैसलमेर सड़क मार्ग पर 1500 गायों की गौशाला चलाने के लिए भूमि आवंटित की गई है. साथ ही अन्य नामों से ढाणियां बनाने के लिए भूमि का आवंटन किया गया है. 

ग्रामीणों द्वारा सूर्य पुत्र शनिदेव सेवा समिति गौशाला को आवंटित भूमि और आबादी विकास के लिए सेट अपार्टमेंट में गई ढाणियों को निरस्त करने की मांग की है. ग्रामीणों का नेतृत्व कर रहे वीरेंद्र सिंह (Veerendra Singh) ने कहा कि जैसलमेर जिले के कांग्रेस के पूर्व जिला अध्यक्ष ने अपने पद और राजनैतिक का फायदा लेते हुए फर्जी तरीके से गौशाला के लिए आवंटित भूमि करवा ली.

साथ ही मौके पर कुछ भी नहीं है. तहसीलदार को ज्ञापन देकर बताया कि इस भूमि को अन्यत्र स्थान्तरित किया जाए और उसके स्थान पर नवलसिंह की ढाणी और मीयों की ढाणी के लिए भूमि आरक्षित की जाए.

Reporter- Shankar Dan