Jalore: सांचोर में पिस्टल की नोंक पर सेठ और नौकर को बंधक बनाकर की गई लूट का पर्दाफाश
topStories1rajasthan1464428

Jalore: सांचोर में पिस्टल की नोंक पर सेठ और नौकर को बंधक बनाकर की गई लूट का पर्दाफाश

राजस्थान में जालोर के सांचोर में सरवाना थाना के सुराचन्द गांव में शुक्रवार की रात को वृद्ध सेठ जावंतराज पुत्र मैयाचन्द के घर लूट की वारदात को अंजाम देने के मामले में पुलिस ने खुलासा करते हुए लूट के चार आरोपियों समेत जेवरात खरीदने वाले घेवरचंद सोनी को गिरफ्तार किया है.

Jalore: सांचोर में पिस्टल की नोंक पर सेठ और नौकर को बंधक बनाकर की गई लूट का पर्दाफाश

Sanchore, Jalore News: सरवाना थाना के सुराचन्द गांव में शुक्रवार की रात को वृद्ध सेठ जावंतराज पुत्र मैयाचन्द के घर लूट की वारदात को अंजाम देने के मामले में पुलिस ने खुलासा करते हुए लूट के चार आरोपियों समेत जेवरात खरीदने वाले घेवरचंद सोनी को गिरफ्तार किया है.

एडिशनल एसपी दशरथ सिंह ने बताया कि 25 नवंबर की रात 1 बजे के आसपास जावंतराज जैन के घर नकाबपोश बदमाश पहुंचे और पिस्टल की नोक पर जैन और उसके नौकर आमदखान पुत्र नुराखान को बंधक बनाकर लूट की वारदात को अंजाम देकर फरार हो गए थे. 

यह भी पढे़ं- गर्लफ्रेंड के न नहाने से दुखी हुआ बॉयफ्रेंड, बोला- बदबू आती है, 2-2 हफ्तों तक नहीं नहाती

मामले में सीसीटीवी फुटेज की मदद से पुलिस ने पूरी वारदात का खुलासा करते हुए मुंगाराम उर्फ मांगीलाल निवासी कांटोल पुलिस थाना सांचोर, सोहनसिंह निवासी जीवाणियों की ढाणी पुलिस थाना गुडामालानी, राजेन्द्रसिंह भाटी निवासी सिंहडार पुलिस थाना झिनझिनयाली व उत्तमसिहं राजपुरोहित निवासी वादनवाडी पुलिस थाना आहोर को गिरफ्तार किया. अब इन आरोपियों से पूछताछ करके के बाद लूटा गया माल बरामदगी के प्रयास किए जाएंगे.

बदमाशों ने की थी रेकी
पूछताछ में सामने आया कि इन बदमाशों में से मांगी लाल ने पहले रेकी की थी. इसके बाद उसने वारदात को अंजाम देने के लिए सोहन सिंह से संपर्क किया. सोहन सिंह ने आगे गैंग से संपर्क करके वारदात को अंजाम दिया. इन आरोपियों ने जैन के घर से एक लाख 30 हजार रुपए नकद, 8 किलो चांदी के साथ सोने के जेवरात लूटे थे. लूटे हुए माल को खुर्द बुर्द करने के लिए आरोपियों ने घेवर चंद सोनी को चांदी बेच दी थी.

यह भी पढ़ें- पति की हत्या कर आशिक संग रंगरलियां मना रही थी बहू, ससुर ने ऐसे किया भंडाफोड़

ऐसे हुई आरोपियों की गिरफ्तारी
लूट की वारदात को अंजाम देने के बाद आरोपी बाड़मेर जिले में चले गए थे. ऐसे में तकनीकी जानकारी के आधार पर जालोर एसपी हर्षवर्धन अग्रवाला ने बाड़मेर एसपी दीपक भार्गव से बात करने के बाद बालोतरा के एडिशनल एसपी नितेश आर्य के साथ एक टीम गठित की थी. वहीं जालोर जिले में भी दो टीम गठित की गई. दोनों जिलों की टीम ने धोरीमना से सभी आरोपियों को गिरफ्तार किया है.

Reporter- Dungar Singh

Trending news