कोटा: 10 डिग्री तापमान में भी भूख हड़ताल पर बैठी जेडीबी कॉलेज की छात्राएं, बोलीं- मांगें मानी जाएं

छात्राओं ने कॉलेज के मुख्य गेट पर ही टेंट लगवा दिया है. लंबे समय से छात्र संघ को लेकर छात्राओं का विरोध जारी था और जब विरोध से हल नहीं निकला तो कॉलेज प्रशासन पर मनमानी का आरोप लगाते हुए छात्राएं भूख हड़ताल पर बैठ गई हैं.

कोटा: 10 डिग्री तापमान में भी भूख हड़ताल पर बैठी जेडीबी कॉलेज की छात्राएं, बोलीं- मांगें मानी जाएं
छात्राएं मंगलवार को शाम से कालेज परिसर के बाहर अनिश्चितकालीन भूख हड़ताल पर बैठी हैं.

हिमांशू मित्तल, कोटा: जिले में जेडीबी कॉलेज (JDB College) में छात्र संघ शपथ ग्रहण को लेकर विवाद नहीं थम रहा है. कॉलेजों में गेस्ट को लेकर विवाद लगातार बना हुआ है. विरोध के बाद नौबत भूख हड़ताल तक आ गई है. छात्राएं भूख हड़ताल पर बैठ गई हैं.

भूख हड़ताल का आज दूसरा दिन है. छात्राओं ने कॉलेज के मुख्य गेट पर ही टेंट लगवा दिया है. लंबे समय से छात्र संघ को लेकर छात्राओं का विरोध जारी था और जब विरोध से हल नहीं निकला तो कॉलेज प्रशासन पर मनमानी का आरोप लगाते हुए छात्राएं भूख हड़ताल पर बैठ गई हैं. छात्राओं ने अनिश्चितकालीन हड़ताल की चेतावनी भी दी है.

जेडीबी आर्ट्स गर्ल्स कॉलेज में शपथ ग्रहण समारोह करवाने और उसमें अपने पसंदीदा अतिथि को बुलाने की मांग को लेकर छात्राएं डटी हुई हैं. छात्रसंघ अध्यक्ष प्रेरणा जयसवाल, उपाध्यक्ष आकांक्षा, संयुक्त सचिव गुंजन पारेता और एबीपी की प्रांत सह मंत्री गुन्जन झाला कॉलेज के गेट के बाहर भूख हड़ताल पर बैठी हुई हैं.

जारी रहेगी भूख हड़ताल
10 डिग्री के टेंपरेचर के बावजूद पूरी रात टेंट और रजाई के सहारे खुले आसमान के नीचे कॉलेज के गेट के बाहर भूख हड़ताल पर डटी रहीं. छात्रसंघ अध्यक्ष प्रेरणा जयसवाल ने कॉलेज प्रशासन पर रात को उनकी सुध नहीं लेने का आरोप लगाया. छात्राओं का कहना है कि जब तक उनकी मांग को नहीं मान लिया जाएगा, फिर आंधी तूफान आए और कितनी सर्दी पड़े, वह कॉलेज के गेट के बाहर बैठे रहेंगे और उनकी भूख हड़ताल जारी रहेगी.

पहले भी कर चुकी हैं प्रदर्शन
बता दें कि जेडीबी आर्ट्स गर्ल्स कॉलेज की नवनिर्वाचित एबीवीपी छात्रसंघ अध्यक्ष के शपथ ग्रहण कार्यक्रम में मनचाहे अतिथि को बुलाने की मांग को लेकर कई बार प्रदर्शन कर चुकी हैं. इसके बावजूद कॉलेज प्रशासन ने इनकी बात नहीं मानी. इस पर छात्राएं मंगलवार को शाम से कालेज परिसर के बाहर अनिश्चितकालीन भूख हड़ताल पर बैठी हैं.

समारोह में वे अपनी पसंद के अतिथियों को बुलाना चाहती हैं, लेकिन कॉलेज प्रशासन सरकार के ट्रांसफर की कार्रवाई के डर के कारण शपथ ग्रहण समारोह आयोजित नहीं करवा रहा है. छात्राओं ने बताया कि वे कई दिनों से कॉलेज प्रशासन से आग्रह कर रही हैं. बीते दो माह से वे लोग थाली बजाओ से लेकर कई तरह के प्रदर्शन बीते कर रहे हैं, लेकिन कॉलेज प्रबंधन उनकी एक मानने को तैयार नहीं है.