close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

झुंझुनू: यमुना का पानी लाने के लिए DPR मामले पर बोलीं पूर्व सांसद अहलावत, PM से करूंगी मुलाकात

पूर्व सांसद अहलावत ने बताया कि डीपीआर का अध्ययन करवाया जा रहा है और इस डीपीआर में यदि कोई कमियां रही है तो वह कमियां दूर की जाएंगी

झुंझुनू: यमुना का पानी लाने के लिए DPR मामले पर बोलीं पूर्व सांसद अहलावत, PM से करूंगी मुलाकात
फाइल फोटो

झुंझुनू: यमुना नहर के पानी को लाने के लिए बनाई जा रही डीपीआर को खारिज किए जाने की खबरों के बाद झुंझुनूं की पूर्व सांसद संतोष अहलावत ने भी अपना बयान दिया है. अहलावत ने बताया कि पिछले पांच सालों में उन्होंने बतौर सांसद यमुना नहर का पानी झुंझुनू लाने के लिए काफी प्रयास किए. जिसके कारण डीपीआर तक बात पहुंची और डीपीआर तैयार भी हुई लेकिन केंद्रीय जल आयोग को कुछ कमियां इस डीपीआर में दिखने पर इसे खारिज करने की चर्चा आ रही है. 

जिसे लेकर उन्हें भी झुंझुनूं जिले के लोगों की तरह चिंता हो गई है लेकिन उन्हें विश्वास है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व वाली एनडीए सरकार यदि वास्तव में यह खामियां है तो इसे दूर कर इसे वापिस केंद्रीय जल आयोग के समक्ष पेश करेगी. उन्होंने बताया कि वे इस मामले में पिछले पांच सालों में भी खूब प्रयास कर रहे हैं और आगे भी झुंझुनूं की इस लड़ाई को लड़ने से वह पीछे नहीं हटेंगे. 

पूर्व सांसद अहलावत ने बताया कि डीपीआर का अध्ययन करवाया जा रहा है और इस डीपीआर में यदि कोई कमियां रही है तो वह कमियां दूर की जाएंगी. उसे दूर करवाया जाएगा लेकिन झुंझुनूं को उसके हिस्से का पानी दिलवाने का संकल्प पूरा कर ही दम लेंगे. उन्होंने बताया कि जिस कांग्रेस ने तीन-चार दशकों से यमुना के नाम पर वोट बटोरे. विडंबना है कि अब उसी कांग्रेस के नेता भाजपा पर यमुना के नाम पर वोट लेने का आरोप लगा रहे हैं. 

असल में कांग्रेस ने तो केवल हवाई बातों के अलावा कुछ नहीं किया लेकिन भाजपा ने कागजों में तो यमुना नहर लाने की प्रक्रिया चालू करवा दी. उन्होंने जिले के लोगों से अपील की है कि वे कांग्रेस के नेताओं से सतर्क रहें क्योंकि जो लोग वोट लेने का आरोप लगा रहे हैं वो भी कहीं ना कहीं वोटों की राजनीति के लिए कभी नहर तो कभी किसी अन्य नाम से लोगों को गुमराह कर रहे हैं.