झुंझुनूं: खुली है किराने की दुकानें, लेकिन भीड़ होने पर होगी कार्रवाई

कलेक्टर यूडी खान ने साफ किया है कि दैनिक उपयोग में आने वाली वस्तुओं की दुकानों पर कोई प्रतिबंध नहीं है.

झुंझुनूं: खुली है किराने की दुकानें, लेकिन भीड़ होने पर होगी कार्रवाई
कलेक्टर यूडी खान ने दुकानों के खोलने पर दिया बयान

संदीप केडिया, झुंझुनूं: राजस्थान के झुंझुनूं में अभी तक रोजमर्रा की जरूरतें की दुकानें भी बंद हैं, लेकिन कलेक्टर यूडी खान ने साफ किया है कि दैनिक उपयोग में आने वाली वस्तुओं की दुकानों पर कोई प्रतिबंध नहीं है. धारा 144 का पालन भी जरूरी है. साथ ही जो हिदायतें कोरोना वायरस (Coronavirus) को लेकर दी गई है उसका भी ध्यान रखें.

जिला कलेक्टर यूडी खान ने साफ किया है कि झुंझुनूं जिले में धारा 144 के तहत केवल एक किलोमीटर कफ्र्यू के दायरे को छोड़ दिया जाए तो कहीं पर भी मेडिकल स्टोर, किराने की दुकान, डेयरी से संबंधित उत्पाद की दुकान या फिर प्रोविजनल स्टोर बंद नहीं है. इसके अलावा बैंक और एटीएम भी खुले हैं, लेकिन लोग दूरी को मैंटेन रखें और अनावश्यक रूप से घरों से बाहर नहीं निकले. उन्होंने कहा कि जिस दुकान पर दूरी मैंटेन नहीं मिली और पांच से ज्यादा लोग मिले तो दुकानदार के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी. उन्होंने कहा कि यह रियायत केवल और केवल लोगों को राहत देने के लिए है, ना कि व्यवस्थाओं को बिगाड़ने के लिए.

इधर, एसपी जेसी शर्मा ने भी कहा है कि दैनिक आवश्यकताओं की वस्तुओं की दुकानें खुली हैं. व्यक्ति जाकर अपने जरूरत का सामान खरीद सकते हैं. लेकिन भीड़ की तो पुलिस कार्रवाई करेगी और सेनेटाइजर, साबुन और मास्क आदि का प्रयोग करें. उन्होंने कहा कि पुलिस लगातार विनम्रतापूर्णक समझाइश कर रही है. बावजूद इसके कोई बेवजह घरों से निकलेगा तो कार्रवाई होगी.

ये भी पढ़ें: राजस्थान में 12 घंटे में सामने आए 4 नए कोरोना पॉजिटिव, अब तक कुल हुए 36

कलेक्टर यूडी खान ने बताया कि कालाबाजारी पर पूरा फोकस है. रसद, ड्रग और मेडिकल विभाग को इस बारे में निर्देशित किया है कि वे ना केवल शहर, बल्कि जिले में भी दौरे करते रहे और कहीं पर भी कालाबाजारी के हालात पैदा ना होने दें. उन्होंने बताया कि यदि कहीं से भी जिला प्रशासन के पास कालाबाजारी की सूचना मिलती है तो ना केवल संबंधित क्षेत्र के जिम्मेदार अधिकारी, बल्कि दुकानकार पर भी कार्रवाई होगी. उन्होंने कहा कि फूड सप्लाई की सेवाएं लगातार जारी है. इसलिए कालाबाजारी जैसे हालात भी नहीं है. 

इधर, जिला प्रशासन ने एक अपील भी जारी की है, जिसमें एक फोटो का हवाला देते हुए दुकानदारों से अपील की गई है कि वे कम से कम एक ग्राहक के बीच दो मीटर की दूरी को मैंटेन करते हुए कोरोना से बचाव के नियमों में रहते हुए अपनी दुकानें खोले और व्यापार करें.