जोधपुर: 5 फरवरी तक गिरफ्तार नहीं होंगे रॉबर्ट वाड्रा

रॉबर्ट वाड्रा से जुड़े बीकानेर के कोलायत फायरिंग रेंज में 275 बीघा जमीन खरीद-फरोख्त के मामले और मनी लॉन्ड्रिंग से जुड़े मामले में स्काइलाइट प्राइवेट हॉस्पिटलिटी और महेश नागर की ओर से दायर याचिका पर हाईकोर्ट जस्टिस मनोज गर्ग की एकलपीठ में सुनवाई समय अभाव के चलते टल गई.

जोधपुर: 5 फरवरी तक गिरफ्तार नहीं होंगे रॉबर्ट वाड्रा
रॉबर्ट वाड्रा

जोधपुर: रॉबर्ट वाड्रा(Robert Vadra) से जुड़े बीकानेर के कोलायत फायरिंग रेंज में 275 बीघा जमीन खरीद-फरोख्त के मामले और मनी लॉन्ड्रिंग से जुड़े मामले में स्काइलाइट प्राइवेट हॉस्पिटलिटी और महेश नागर की ओर से दायर याचिका पर हाईकोर्ट जस्टिस मनोज गर्ग की एकलपीठ में सुनवाई समय अभाव के चलते टल गई. अब इस मामले में आगामी 5 फरवरी को फिर सुनवाई होगी. तब तक वाड्रा की गिरफ्तारी पर अंतरिम रोक जारी रहेगी.

रॉबर्ट वाड्रा(Robert Vadra) व मौरीन वाड्रा से जुड़े मामले में स्काईलाइट प्राइवेट हॉस्पिटीलिटी व महेश नागर की याचिका पर बुधवार को हाईकोर्ट जस्टिस मनोज कुमार गर्ग की कोर्ट में सुनवाई होनी थी, लेकिन समय अभाव के चलते मामले में सुनवाई टल गई. ईडी की ओर से पक्ष रखते हुए एएसजी राज दीपक रस्तोगी ने कोर्ट से आग्रह किया कि इस मामले में बुधवार को अंतिम बहस शुरू कर दी जाए. 

हाई कोर्ट जस्टिस मनोज कुमार गर्ग की कोर्ट ने अधिवक्ता भंवर सिंह मेड़तिया की मृत्यु के बाद कोर्ट में 3:45 पर रेफरेंस के आयोजन का हवाला देते हुए सुनवाई आगामी 5 फरवरी को नियत करने का आदेश दिया. एएसजी राज दीपक रस्तोगी ने कोर्ट को बताया कि इस मामले में विगत 20 पेशियों से आगे तारीख दी जा रही है और वह आशा करते हैं कि आगामी 5 फरवरी को इस मामले में अंतिम बहस शुरू कर दी जाएगी. 

साथ ही उन्होंने कोर्ट के संज्ञान में लाया कि पूर्व में महेश नागर के मामले में रॉबर्ट वाड्रा(Robert Vadra) व मौरीन वाड्रा के खिलाफ नो-कोर्सिव एक्शन का आदेश जारी हो चुका है, जिसके खिलाफ उनकी ओर से एक अर्जी पेश की गई है जिसका निस्तारण भी होना बाकी है. अब इस मामले में आगामी 5 फरवरी को फिर सुनवाई होगी. 

बुधवार को सुनवाई के दौरान रॉबर्ट वाड्रा(Robert Vadra) व मौरीन वाड्रा की ओर से सुप्रीम कोर्ट के वरिष्ठ अधिवक्ता केटीएस तुलसी कोर्ट में मौजूद रहे. गौरतलब है कि बीकानेर के कोलायत क्षेत्र में 275 बीघा जमीन खरीद फरोख्त से जुड़ा है. इस सौदे की ईडी में जांच चल रही है. इस मामले में रॉबर्ट वाड्रा ने अपने पार्टनर मौरीन वाड्रा को एक चेक दिया था इस चेक के द्वारा बिचौलिए महेश नागर ने अपने ड्राइवर के नाम जमीन खरीदकर इस पूरे घोटाले को अंजाम दिया है, जो जांच का विषय है. इस पर पूर्व में कोर्ट ने रॉबर्ट वाड्रा(Robert Vadra) को जांच में सहयोग करने के लिए ईडी के सामने पेश होने और गिरफ्तारी पर रोक के अंतरिम आदेश दिए थे. वाड्रा की गिरफ्तारी पर रोक आगामी 5 फरवरी तक जारी रहेगी.