जोधपुर नगर निगम के साफ-सफाई के दावों की खुल रही पोल, सड़कों पर बह रहे सीवर

गंदगी का आलम यह है कि गंदा पानी सड़क पर और दुकान के आगे जमा रहने से व्यापारियों का दुकान में बैठना दूभर हो गया है. 

जोधपुर नगर निगम के साफ-सफाई के दावों की खुल रही पोल, सड़कों पर बह रहे सीवर
प्रतीकात्मक तस्वीर.

भवानी भाटी, जोधपुर: शहर के मुख्य बाजार त्रिपोलिया सोजती गेट में गंदगी और कीचड़ का आलम है. सीवरेज का पानी सड़कों पर बहने नियमित साफ सफाई नहीं होने से व्यापारी और आमजन परेशान है. 

गंदगी का आलम यह है कि गंदा पानी सड़क पर और दुकान के आगे जमा रहने से व्यापारियों का दुकान में बैठना दूभर हो गया है. सड़क पर फैले कीचड़ से खरीदारी करने वालो को भी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है.

नगर निगम प्रशासन भले ही साफ-सफाई को लेकर कई दावा करता हो लेकिन हकीकत कुछ और ही है. नियमित साफ सफाई नहीं होने और सीवरेज की सफाई नहीं होने से बाजार कचरे से अटे पड़े हैं. व्यापारियों की मानें तो त्रिपोलिया बाजार से लेकर सोजती गेट तक पूरे इलाके में सीवरेज का गंदा पानी सड़कों पर पसरा रहता है, जिससे पूरे इलाके में गंदगी और कीचड़ का आलम है. 

गंदगी के कारण बदबू का आलम है, जिससे दुकानदारों का दुकान में बैठना भी दूभर हो रहा है. वहीं, कीचड़ के कारण बाजार में खरीददारी करने आने वाले लोगों को भी भारी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है. व्यपारियों का आरोप है कि नगर निगम अधिकारी इस ओर ध्यान नहीं दे रहे हैं, जिसके चलते निगम के सफाई कर्मचारी भी अपनी औपचारिकता कर लेते हैं. व्यपारियों की मानें तो गंदगी और कीचड़ के चलते बीमारियों के फैलने का भी अंदेशा बना रहता है. ऐसे में निगम अधिकारियों को इसे गंभीरता से लेने की जरूरत है.