Jodhpur: लवली कंडारा एनकाउंटर मामले में पुलिस प्रशासन और वाल्मीकि समाज के बीच बनी सहमति
X

Jodhpur: लवली कंडारा एनकाउंटर मामले में पुलिस प्रशासन और वाल्मीकि समाज के बीच बनी सहमति

परिजनों की सहमति के बाद मृतक के पोस्टमार्टम की कार्रवाई शुरू की गई.

Jodhpur: लवली कंडारा एनकाउंटर मामले में पुलिस प्रशासन और वाल्मीकि समाज के बीच बनी सहमति

Jodhpur: जिले के लवली कंडारा एनकाउंटर (Lovely Kandara Encounter) मामले में पिछले 4 दिनों से चल रहा गतिरोध रविवार को वाल्मीकि समाज (Valmiki Samaj) और पुलिस प्रशासन के बीच हुई वार्ता के बाद मांगों पर सहमति के मामले का पटाक्षेप हो गया. परिजनों की सहमति के बाद मृतक के पोस्टमार्टम (postmortem) की कार्रवाई शुरू की गई. प्रशासन ने मामले में शामिल पुलिस कर्मियों को निलंबित करने के साथ ही पुलिस व मृतक के परिजनों की शिकायत पर सीआईडी सीबी से जांच करवाने के साथ ही अन्य मांगे राज्य सरकार (State Government) को भेजने का आश्वाशन दिया.

13 अक्टूम्बर की शाम को पुलिस और बदमाश लवली कंडारा के बीच हुई फायरिंग में लवली कंडारा (Lovely Kandara) की मौत हो गई. इसके बाद से ही वाल्मीकि समाज एनकाउंटर को फर्जी बताते हुए मामले में रातानाडा थानाधिकारी लीलाराम व शामिल पुलिसकर्मियों को बर्खाश्त करने, मामले की सीबीआई (CBI) जांच व हत्या की धारा में मामला दर्ज करने की मांग को लेकर एमडीएम मोर्चरी (MDM Mortuary) के बाहर धरने पर बैठ गए.

यह भी पढ़ें- Jodhpur: Lovely Kandara एनकाउंटर का CCTV फुटेज आया सामने, खुद देखिए सच्चाई

इसके बाद आरएलपी सुप्रीमो हनुमान बेनिवाल (Hanuman Beniwal), भाजपा नेता के साथ ही कांग्रेस नेताओं ने धरने पर बैठे वाल्मीकि समाज के लोगों से वार्ता की. यही नहीं पुलिस प्रशासन से भी कई दौर की वार्ता हुई, लेकिन आखिरकार आज हनुमान बेनीवाल के बाद जेडीए के पूर्व चैयरमेन राजेन्द्र सोलंकी, महापौर कुंती देवड़ा व अन्य नेताओं के साथ पुलिस कमिश्रेट कार्यालय में एडीजी रवि प्रकाश मेहरड़ा व पुलिस कमिश्रर जोस् मोहन और वाल्मीकि समाज के प्रतिनिधि मंडल के साथ हुई वार्ता के बाद मांगों पर सहमति बनी.

यह भी पढ़ें- सेना के 6 जवानों को भेजा गया जेल, पिता-पुत्र को टक्कर मारने के बाद झाड़ियों में फेंके थे शव

इसमें मामले में शामिल पुलिसकर्मियों को निलंबित करने, पुलिस व पीड़ित के मुकदमे की एक साथ सीआईडी सीबी से जांच करवाने के साथ ही अन्य मांगों को राज्य सरकार (Rajasthan Government) को भेजने पर सहमति बनी. इसके बाद परिजनों की सहमति के बाद मृतक के पोस्टमार्टम की कार्रवाई शुरू की गई. इसके साथ ही चार दिनों से चल रहा गतिरोध का पटाक्षेप हो गया.
Report - Bhawani bhati

Trending news