Jalore : अस्थाई कोविड सेंटर में तब्दील हुआ सरकारी स्कूल, मरीजों को इलाज में मिलेगी राहत

जालोर में कोरोना की दूसरी लहर में तेजी से बढ़ते संक्रमण (Coronavirus) के कारण चिकित्सा व्यवस्थाएं लगातार लड़खराने लगी है. 

Jalore : अस्थाई कोविड सेंटर में तब्दील हुआ सरकारी स्कूल, मरीजों को इलाज में मिलेगी राहत
वन मंत्री सुखराम पिछले कई दिनों से अपने गृह जिले में कोरोना के खतरों के बारे में नजर बनाए हुए हैं.

Jalore : राजस्थान के जालोर में कोरोना की दूसरी लहर में तेजी से बढ़ते संक्रमण (Coronavirus) के कारण चिकित्सा व्यवस्थाएं लगातार लड़खराने लगी है. वन मंत्री सुखराम पिछले कई दिनों से अपने गृह जिले में कोरोना के खतरों के बारे में नजर बनाए हुए हैं. यहां पर बढ़ते मरीजों की संख्या से चिंतित वन एवं पर्यावरण मंत्री सुखराम बिश्नोई ने भामाशाहो की मदद से सरकारी स्कूल को कोविड सेंटर में तब्दील कर कोरोना मरीजों को बड़ी राहत दी है.

यह भी पढ़ें- बढ़ते Covid संक्रमण को लेकर हालात चिंताजनक, BJP प्रवक्ता Ramlal Sharma ने रखी यह मांग

वन मंत्री (Sukhram Bishnoi) के निर्देश के बाद महज 24 घंटे में ही अस्पताल बनाकर तैयार कर दिया है. ऐसे में इतने कम समय में इस तरह का काम अपने आप में वाकई काबिले तारीफ है. उन्होंने स्कूल को अस्थाई अस्पताल बनाकर कोरोना मरीजों को राहत दी है.

सांचोर के सरकारी स्कूल में 50 बेड का निःशुल्क कोविड अस्पताल बनाया गया है, जिसमें कोरोना मरीजों को निःशुल्ज ऑक्सिजन, भोजन व दवाई मिलेगी. जिले भर में कोरोना का भयंकर प्रकोप देखते हुए अस्पतालों में कोरोना मरीजों को बेड नहीं मिल रहे थे. इस परेशानी को देखते हुए मंत्री सुखराम बिश्नोई ने भामाशाहों की मदद से अस्थाई कोविड अस्पताल तैयार किया है. जिसका मंत्री सुखराम बिश्नोई आज उद्घघाटन किया गया.

इस अवसर पर नगरपालिका चैयरमैन नरेश सेठ, चितलवाना प्रधान प्रकाश कंवर हिन्दुसिंह दूठवा, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक दशरथसिंह, बीसीएमओ ओमप्रकाश सुथार, डॉ. मनोज बिश्नोई सहित भामाशाह मौजूद थे.

यह भी पढ़ें- Covid प्रबंधन को लेकर BJP ने राजस्थान सरकार पर बोला हमला, कहा- CHC-PHC पर हो इलाज