लॉकडाउन का पूर्णता हो पालन, वैक्सीन लगवाने में ना करें ढिलाई: हरीश चौधरी

Barmer News: मंत्री ने कहा कि क्षेत्र में कोविड लक्षणों वाले लोगों की सघन पहचान के लिए डोर-टू-डोर सर्वे का द्वितीय चरण प्रभावी रूप से किया जाए 

लॉकडाउन का पूर्णता हो पालन, वैक्सीन लगवाने में ना करें ढिलाई: हरीश चौधरी
राजस्थान सरकार में मंत्री हैं हरीश चौधरी. (तस्वीर साभार-@Barmer_Harish)

Barmer: बाड़मेर जिले में राजस्व मंत्री हरीश चौधरी लगातार कोविड प्रबंधन लगातार सक्रिय हैं. बुधवार को राजस्व मंत्री चौधरी ने चौखला एवं भीमड़ा में ग्राम स्तरीय कोर कमेटी के सदस्यों एवं जनप्रतिनिधियों के साथ चर्चा कर कोरोना जागरूकता एवं सावधानी की जानकारी दी.

उन्होनें भीमड़ा में आदर्श पीएचसी का निरीक्षण कर कोविड प्रबंधों की जानकारी भी ली. राजस्व मंत्री हरीश चौधरी ने नवाचार करते हुए बाटाडू ग्राम पंचायत के कोविड पॉजिटिव मरीजों के साथ वीडियो कॉन्फ्रेसिंग के जरिए बात कर उनके स्वास्थ्य की जानकारी ली. उन्होनें सकारात्मक सोच के साथ कोरोना से जूझने के लिए उन्हें प्रेरित भी किया तथा उन्हें सम्पूर्ण सहयोग का विश्वास दिलाया.

ये भी पढ़ें-ये भी पढ़ें-टीका की खरीद के लिए गहलोत सरकार निकालेगी ग्लोबल टेंडर, नर्सिंग कर्मियों के पदनाम बदलने को मंजूरी

 

दरअसल,  राजस्व मंत्री चौधरी ने बुधवार को ग्राम पंचायत चौखला एवं भीमड़ा में कोविड महामारी को लेकर ग्राम स्तरीय कोर कमेटी के सदस्यों, एएनएम, आंगनवाड़ी कार्यकर्ता एवं स्थानीय प्रतिनिधियों से संवाद किया. उन्होनें कोरोना जागरूकता एवं सतर्कता पर विशेष ध्यान देने की बात कही.

मंत्री ने कहा कि क्षेत्र में प्रत्येक गांव एवं ढ़ाणी में कोविड के संबंध में जागरूकता आना अत्यावश्यक है. उन्होनें कहा कि आमजन को राज्य सरकार द्वारा जारी गाइडलाइन के पूर्ण पालन के लिए प्रेरित किया जाए, ताकि लोग कोविड महामारी के दौर में अनावश्यक घरों से न निकले तथा कोविड से संबंधित प्राथमिक लक्षण दिखने पर चिकित्सकीय उपचार लेने के लिए नजदीकी डॉक्टर से सलाह अवश्य लें.

उन्होनें कहा कि क्षेत्र में कोविड लक्षणों वाले लोगों की सघन पहचान के लिए डोर-टू-डोर सर्वे का द्वितीय चरण प्रभावी रूप से किया जाए, ताकि संक्रमण के खतरे के बढ़ने से पहले ही संभावित संक्रमित की पहचान की जाकर, उसका उपचार प्रारंभ किया जा सके. उन्होनें ILI लक्षण वाले समस्त लोगों को मेडिकल किट उपलब्ध कराने के निर्देश दिए.

ये भी पढ़ें-Covid की तीसरी लहर की रोकथाम के लिए सर्वदलीय बैठक आयोजित, Task फोर्स बनाने के निर्देश

 

राजस्व मंत्री चौधरी ने बुधवार को कोविड मरीजों से संवाद के लिए नवाचार कर वीडियो कॉन्फ्रेसिंग माध्यम का उपयोग किया. उन्होनें पॉजिटिव मरीजों को चिकित्सकों की सलाह अनुरूप नियमित दवाईयों का सेवन करने तथा सकारात्मक सोच के साथ कोविड से डट कर मुकाबला करने को कहकर उनका हौसला बढ़ाया.

इस दौरान पॉजिटिव मरीजों ने अपने अनुभव साझा किए. चौधरी ने कोविड गाइडलाइन का पूर्ण पालन करने की हिदायत दी. उन्होनें आईसोलेशन के दौरान परिजनों से संपर्क में नहीं आने की बात कही. मंत्री ने कोर कमेटी के सदस्यों से आमजन में जागरूकता लाने के लिए सक्रियता से कार्य करने की बात कही.

उन्होनें कहा कि किसी में भी कोविड लक्षण दिखें तो उसे अनदेखा न किया जाए, चिकित्सकीय परामर्श के लिए लोगों को प्ररित किया जाए. प्राथमिक लक्षणों पर चिकित्सक की सलाह अनुसार ही होम अथवा संस्थागत आईसोलेशन की प्रक्रिया की जाए. आमजन में स्व अनुशासन की प्रवृति से ही संक्रमण को फैलने से रोका जा सकता है, इसलिए उन्हें इस संबंध में प्रेरित किया जाए. उन्होनें क्षेत्र में टीकाकरण की समीक्षा करते हुए लोगों को टीका अवश्य लगवाने के लिए जागरूक करने के निर्देश दिए.

(इनपुट-भूपेश आचार्य)