Pali: RPSC का फर्जी अधिकारी गिरफ्तार, बेरोजगारों को नौकरी का झांसा देकर करता था ठगी
X

Pali: RPSC का फर्जी अधिकारी गिरफ्तार, बेरोजगारों को नौकरी का झांसा देकर करता था ठगी

ASI सम्पराज ने बताया कि आरोपी सरकारी कार्यालयों में टेंडर लेकर वहां मजूदर सप्लाई का काम करता था. 

Pali: RPSC का फर्जी अधिकारी गिरफ्तार, बेरोजगारों को नौकरी का झांसा देकर करता था ठगी

Pali: खुद को RPSC का अधिकारी बता बेरोजगार युवाओं को सरकारी नौकरी (Jobs) लगाने का झांसा देकर ठगी करने के एक शातिर आरोपी को कोतवाली पुलिस ने गिरफ्तार किया. 

आरोपी के कब्जे से पुलिस ने दो फर्जी पहचान पत्र, 7 विभिन्न अधिकारियों की सीलें बरामद की. रिमांड के दौरान पुलिस आरोपी से पूछताछ करेगी कि उसने अभी तक कितने लोगों को सरकारी नौकरी का झांसा देकर ठगी की.

यह भी पढे़ं- मरने से पहले मजबूर किसान ने रो-रोकर बनाया वीडियो, बोला- मेरी औलाद का ध्यान रखना

 

SP राजन दुष्यंत ने बताया कि मुखबिर की सूचना पर कोतवाली पुलिस ने नाडी मोहल्ला निवासी 29 वर्षीय मुकद्दर अली सिपाई को गिरफ्तार किया. आरोपी के कब्जे से 2 फर्जी पहचान पत्र गवर्मेट ऑफ राजस्थान ऑफिस ऑफ द राजस्थान पब्लिक सर्विस कमीशन अजमेर में प्रोजेक्ट ऑफिसर के पद, ऑफिसर ऑफ द सब डिवीजनल मजिस्ट्रेट एण्ड सब डिवीजनल ऑफिसर पाली का डीसीओ पद के नाम से बने हुए मिले. इसके साथ आरोपी के पास 7 सीलें मिली. जिनमें 2 कार्यालय तहसीलदार पाली, एक तहसीलदार पाली के पदनाम एवं अन्य कई फर्म की सीलें बरामद की गई.

4-5 बेरोजगार को बनाया ठगी का शिकार
प्रारंभिक पूछताछ में आरोपी ने चार-पांच बेरोजगार युवाओं को सरकारी नौकरी दिलाने का झांसा देकर ठगी करना स्वीकार किया हैं. रिमांड के दौरान संख्या और बढ़ने की उम्मीद है.

सरकारी कार्यालयों में करता था मजदूर सप्लाई
ASI सम्पराज ने बताया कि आरोपी सरकारी कार्यालयों में टेंडर लेकर वहां मजूदर सप्लाई का काम करता था. कोरोना के दौरान पिछले दो साल से उसकी आर्थिक स्थिति खराब हुई तो फर्जी सरकारी आई कार्ड बनाकर बेरोजगार युवाओं के सामने खुद को सरकारी अधिकारी बताते हुए उनकी सरकारी नौकरी लगाने का झांसा देकर उन्हें ठगने का काम शुरू कर दिया.

फिलहाल पुलिस कड़ाई से पूछताछ कर रही, जिसमें इस गैंग में और कितने लोग है, उसका पता लगाने में जुटी है.

Reporter- Subhash Rohiswal

 

Trending news