close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

6 साल से पाकिस्तान की जेल में बंद बूंदी के जुगराज की हुई घर वापसी

जुगराज भील 6 साल पूर्व घर से लापता हो गया था जिसकी करीब 1 वर्ष पूर्व ही पाकिस्तान कराची जेल में होने की सूचना मिली थी. तभी से परिजन उसे वापस लाने के प्रयास में थे

6 साल से पाकिस्तान की जेल में बंद बूंदी के जुगराज की हुई घर वापसी
6 साल पहले लापता हो गया था जुगराज.

बूंदी/ संदीप व्यास: राजस्थान के बूंदी के तालेड़ा उपखंड के लोगों में उस वक्त खुशी की लहर दौड़ गई जब उन्हें पता चला कि पिछले 6 सालों से पाकिस्तान जेल में बंद उनके उपखंड के एक व्यक्ति को पाकिस्तान ने भारत को सौंप दिया है. दरअसल, तालेड़ा उपखंड के जुगराज 6 साल पहले लापता हो गए थे और 2018 में ही उनके परिजनों को पता चला था कि वह पाकिस्तान की जेल में है. जिसके बाद बुधवार को पाकिस्तान द्वारा जुगराज को अमृतसर के वाघा बॉर्डर पर भारतीय सेना के सुपुर्द कर दिया गया. 

जुगराज भील 6 साल पूर्व घर से लापता हो गया था जिसकी करीब 1 वर्ष पूर्व ही पाकिस्तान कराची जेल में होने की सूचना मिली थी. तभी से परिजन उसे वापस लाने के प्रयास में थे. जुगराज को वापस वतन लाने के लिए परिवारजनो की सहायता के लिए युवक कांग्रेस सदस्य चमेर्श शर्मा, सरपंच जगरूप रंधावा, उपप्रधान रघु शर्मा जागमुंड, सरपंच संघर्षरत से मिला. जिसके बाद उन्होंने जिला प्रशासन से लेकर विदेश मंत्रालय, राष्ट्रपति भवन तक जुगराज की वापसी की फरियाद लगाई थी. 

जिसके बाद बुधवार को ही जुगराज भील को पाकिस्‍तान सरकार ने वाघा बॉर्डर पर भारतीय सेना को सुपुर्द कर दिया. फिलहाल जुगराज भील रेड क्रॉस सोसायटी के पास अमृतसर में हैं और परिजनों के वहां पहुंचने के बाद उसे परिवार को सौंप दिया जाएगा. जुगराज के पिता भेरूलाल भील ने बुधवार को यह सूचना मिलने के बाद गणेश मंदिर पहुंचकर मन्नत मांगी और जुगराज को लेने के लिए रवाना हुए. 

बेटे को लाने के लिए सभी युवा कांग्रेस का प्रतिनिधिमंडल साथ में जा रहा है जो जुगराज को सकुशल घर लेकर आएगा. जुगराज के पिता भेरू लाल भील ने बताया कि इन सब की दुआओं और उनके संघर्षों से ही बेटे की वापसी हुई है. उन्होंने कहा कि 6 वर्ष पूर्व अचानक बेटा लापता हो गया था. जिसकी 1 साल पहले ही पाकिस्तान जेल में होने की जानकारी मिली थी. तभी से वह उसको लाने के प्रयास में थे. वहीं युवां कांग्रेस के महामंत्री चमेर्श शर्मा ने बताया कि जुगराज की वापसी के लिए कई प्रयत्न किए गए और सब जगह मन्नत मांगी गई. 

सरकार में फरियाद लगाई, विदेश मंत्रालय में पत्र लिखे गए और राष्ट्रपति भवन में भी पत्र लिखे थे. बुधवार को जुगराज की बॉर्डर पर वापसी हो गई है और रेड क्रॉस सोसाइटी के पास जुगराज सुपुर्द किया गया है.