हिंदी के विकास का वाहक बनने का दायित्व हमारी जिम्मेदारी है: कलराज मिश्र

कलराज मिश्रा ने कहा कि भाषा व्यक्ति को जोड़ती है. भाषा के माध्यम से ही व्यक्ति का परिवार, समाज, गांव, नगर, महानगर, राज्य और देश से जुडाव होता है. 

हिंदी के विकास का वाहक बनने का दायित्व हमारी जिम्मेदारी है: कलराज मिश्र
कलराज मिश्रा ने कहा कि भाषा व्यक्ति को जोड़ती है.

भरत राज/जयपुर: राजस्थान के राज्यपाल कलराज मिश्र (Kalraj Mishra) ने हिन्दी दिवस (14 सितम्बर) पर प्रदेशवासियों को बधाई एवं शुभकामनाएं दी हैं. राज्यपाल ने कहा है कि हिन्दी लोकप्रिय भाषा है. हिंदी के विकास का वाहक बनने का दायित्व हमारी जिम्मेदारी है.

उन्होंने कहा कि देश के विकास के लिए स्वभाषा का होना आवश्यक है. सभी मिलकर हिन्दी का मान और सम्मान बढ़ाएं. राज्यपाल ने कहा है कि वर्तमान प्रयासों में तेजी लाते हुए नवीन प्रयोगों का सहारा लेकर जीवन के प्रत्येक कर्म में हिंदी की प्रतिष्ठा हमारा लक्ष्य होना चाहिए. 

कलराज मिश्रा ने कहा कि भाषा व्यक्ति को जोड़ती है. भाषा के माध्यम से ही व्यक्ति का परिवार, समाज, गांव, नगर, महानगर, राज्य और देश से जुडाव होता है. हिन्दी हमारे देश में सर्वाधिक बोली जाने वाली भाषा है. हिन्दी मात्र भाषा ही नहीं है अपितु भारतीय संस्कृति, सभ्यता की सबल संवाहिका है. हिन्दी हमारे गौरव का आधार है.

बता दें कि कलराज मिश्रा हिंदी भाषा को बढ़ावा देने पर हमेशा जोर देते रहते हैं. इससे पहले भी कई मौके पर राज्यपाल कलराज मिश्र हिंदी पर जोर देने की बात कही है.